Wednesday , January 20 2021
Breaking News
Home / क्राइम / अधेड़ को डेढ़ लाख रुपए में बेच दी विवाहिता, वो वापस लौट आई पति के घर

अधेड़ को डेढ़ लाख रुपए में बेच दी विवाहिता, वो वापस लौट आई पति के घर

ये सनसनीखेज मामला राजस्थान के नागौर का है। यहां चंद रुपए की खातिर रीति-रिवाजों को ताक पर रख एक विवाहिता को कुंवारी बता उसका एक लाख 60 हजार रुपए में सौदा करने का मामला उजागर होने के बाद हरकत में आई पुलिस ने आखिर विवाहिता को उसकी सहमति से वापस अपने पति के घर पहुंचा दिया है। शनिवार देर शाम जैसे ही विवाहिता अपने घर कुम्हारी दरवाजा के बाहर गांछा बस्ती पहुंची तो उसका चेहरा खिल उठा। जबकि विवाहिता का सौदा करने वाला दलाल फरार है। इनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस के प्रयास जारी हैं।

सोरूपा के पति गांछा बस्ती निवासी पवन प्रकाश पुत्र परसाराम ने बताया कि उसने अपनी पत्नी को कमल के साथ पीहर आसाम भेजा था। किराए के 12 हजार रुपए देकर। उसको पता नहीं था कि कमल सोरूपा को डेढ़ लाख में बेच देगा। उसको तो अखबार में प्रकाशित खबर के बाद पता चला कि सोरूपा का सौदा हो गया है। इसके बाद वह पुलिस के पास पहुंचा तो महिला पुलिस सोरुपा को बालवा लाई।

प्रकरण को लेकर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश मीणा ने बताया कि मामले में पुलिस उप अधीक्षक विनोद सीपा के नेतृत्व में महिला थाना प्रभारी अंजू कुमारी सहित अन्य पुलिस कार्मिक जुटे हुए हैं। आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी के प्रयास भी जारी हैं। महिला को उसकी मर्जी एवं बयानों के आधार पर पति के साथ भेज दिया है।

दलाल ने दो दिनों तक बंधक बनाकर मारपीट, धमकाया कि शादी नहीं करेगी तो जान से मार देंगे

सोरुपा ने बताया कि कमल जैसे ही उसको यहां से लेकर गया तो उसने नागौर में ही एक मकान में बंद कर दिया। उसको जान से मारने की धमकी दी और मारपीट की गई। आरोपियों ने शादी का दवाब बनाया और धमकी दी कि अगर वह शादी नहीं करती है तो जान से खत्म देंगे। दो दिनों तक कमरे में ही बंद करने के साथ उसको नशे की गोलियां खिलाई गई।

आरोपियों ने शराब का सेवन कराने का भी प्रयास किया, लेकिन सोरुपा ने शराब पीने से इनकार कर दिया। आरोपियों ने सोरुपा को बालवा में बेच दिया तो कमल और उसकी पत्नी पूर्णिमा वहां भी उसको धमकाने के लिए आते रहे। कहते थे कि वह यहां से कहीं जाती है तो उसके साथ अच्छा नहीं होगा।

वहां आरोपियों ने उसके साथ कई बार मारपीट भी की। हालांकि बालवा में गोपालराम एवं उसके परिवार ने सोरुपा को किसी तरह से परेशान नहीं किया। वे सोरुपा को जल्द उसके घर भेजने की ही बातें करते रहे। इसके चलते दो महीनों तक सोरुपा बालवा में रही।

दलाल ने बालवा के गोपालराम व उसके परिवार को भी अंधेरे में रखकर उसकी शादी करवाई। जब उनको पता चला तो वे उसको वापस छोड़ने को भी तैयार हो गए।

loading...
loading...

Check Also

मौसम अलर्ट : 4 दिन में 4 डिग्री और गिरेगा पारा, इन इलाकों में ठिठुरन के बीच बढ़ेगा कोहरा

नई दिल्ली। देश के ज्यादातर इलाकों में मौसम का मिजाज ( weather update ) लगातार बदल रहा है। ...