Sunday , March 7 2021
Breaking News
Home / जरा हटके / अब घर बैठे ऐसे बनवाएं किसान क्रेडिट कार्ड, जानें- आयु-सीमा और ज़रूरी दस्तावेज़

अब घर बैठे ऐसे बनवाएं किसान क्रेडिट कार्ड, जानें- आयु-सीमा और ज़रूरी दस्तावेज़

मोदी सरकार ने अन्नदाताओं को साहूकारों के चंगुल से बचाने के लिए एक योजना लागू की है, जिसका नाम किसान क्रेडिट कार्ड (KCC-Kisan Credit Card Scheme) है. सरकार चाहती है कि देश के किसी भी किसान को साहूकारों से कर्ज लेने की ज़रूरत न पड़े.

अगर पिछले 2 साल का रिकॉर्ड देखा जाए, तो लगभग 2.24 करोड़ किसान क्रेडिट कार्ड जारी भी किए गए हैं. इसकी मदद से किसानों के लिए खेती करना काफी सस्ता हो गया है, क्योंकि सरकार की तरफ से सिर्फ 4 प्रतिशत ब्याज दर पर लोन (Loan) की सुविधा उपलब्ध कराई गई है. इसीलिए पीएम किसान सम्मान निधि योजना को किसान क्रेडिट योजना से लिंक भी कर दिया गया है.

केंद्रीय कृषि मंत्रालय के मुताबिक

जानकारी के लिए बता दें कि साल 2018-19 में 1,00,78,897 किसानों को केसीसी मुहैया करवाया गया था, जबकि साल 2019-20 में 1,23,63,138 केसीसी बनाए गए हैं. सरकार का लक्ष्य है कि पीएम किसान योजना (PM Kisan Yojana) के सभी लाभार्थियों को केसीसी (KCC) योजना का लाभ मिल सके. इसके लिए अभियान भी चलाए जा रहे हैं.

केसीसी लोन पर ब्याज

खेती-किसानी के लिए केसीसी (KCC) पर लिए गए 3 लाख रुपए तक के लोन की ब्याज दर 9 प्रतिशत है, लेकिन सरकार ईमानदार किसानों को 5 प्रतिशत सब्सिडी पर लोन प्रदान करती है. इसी तरह सिर्फ 4 प्रतिशत ब्याज पर पैसा मिल जाता है. इसकी वैलिडिटी 5 साल रखी गई है.

किसान क्रेडिट कार्ड के फायदे

  • किसान को 60 लाख रुपए तक के लोन पर गारंटी की जरूरत नहीं होगी है.
  • केसीसी की मदद से खेती संबंधी चीजें खरीद सकते हैं.
  • केसीसी लेने पर फसल बीमा कराना स्वैच्छिक हो गया है.
  • अब डेयरी और मछलीपालन के लिए भी केसीसी मिलता है.

कौन ले सकता है किसान क्रेडिट कार्ड

  • केसीसी खेती-किसानी, पशुपालन और मछलीपालन से जुड़ा कोई भी व्यक्ति ले सकता है.
  • अगर किसी और की जमीन पर खेती करने वाले व्यक्ति भी केसीसी का लाभ उठा सकते हैं.

केसीसी लेने के लिए आयु सीमा

इसका लाभ उठाने के लिए न्यूनतम आयु सीमा 18 साल और अधिकतम 75 साल होनी चाहिए. किसान की उम्र 60 साल से अधिक है, तो एक को-अप्लीकेंट भी लगेगा.

जरूरी दस्तावेज़

  • खेती के कागजात
  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड की फोटो कॉपी
  • किसी और बैंक में कर्जदार न होने का एफीडेविड
  • आवेदक की फोटो

नहीं लगेगी प्रोसेसिंग फीस

आपको बता दें कि केसीसी योजना को किसानों की सहूलियत के लिए लागू किया गया है. अगर किसान केसीसी बनवाते हैं, तो किसी तरह की फीस नहीं देनी होगी, क्योंकि सरकार ने इस पर किसी भी तरह का चार्ज लेना खत्म कर दिया है. बता दें कि इससे पहले प्रोसेसिंग, इंस्पेक्शन और लेजर फोलियो चार्ज लगता था. इसके साथ ही जब किसान का आवेदन पूरा हो जाएगा, तब 14 दिन में ही किसान क्रेडिट कार्ड जारी करने का आदेश जारी कर दिया जाएगा. हालांकि, केसीसी के तहत लोन देने से पहले बैंक किसान का सत्यापन करेगा. इसके तहत देखेगा जाएगा कि आप किसान हैं या नहीं. इसके लिए जमीन का रिकॉर्ड भी चेक किया जाएगा.

ज़रूर सूचना

इस कार्ड को बनवाने के लिए फार्म भी पीएम किसान स्कीम की वेबसाइट (pmkisan.gov.in) पर उपलब्ध है.  किसान भाई यहीं से केसीसी फॉर्म डाउनलोड कर सकते हैं.

खबर साभार : कृषि जागरण 

loading...
loading...

Check Also

देश में लगातार दूसरे दिन कोरोना के 18000 से ज्यादा नए केस, पंजाब के चार जिलों में नाइट कर्फ्यू

नई दिल्ली देश में कोरोना के बढ़ते मामलों ने एक बार फिर से चिंता बढ़ा ...