Wednesday , October 28 2020
Breaking News
Home / क्राइम / आर्मेनिया-अजरबैजान में जंग, उजड़े आशियाने में मौत का डर, तस्वीरों में देखें मासूम जिंदगियों का दर्द !

आर्मेनिया-अजरबैजान में जंग, उजड़े आशियाने में मौत का डर, तस्वीरों में देखें मासूम जिंदगियों का दर्द !

अजरबैजान और आर्मीनिया के बीच नागोर्नो-काराबाख में जंग जारी है। इस जंग में अजरबैजान सेना के 3 हजार से ज्यादा सैनिक जान गंवा चुके हैं। रिपोर्ट्स के दावा है कि गोलीबारी की चपेट में नागरिक भी आए हैं। यहां हालात इतने खराब हैं कि काराबाख के पास गांवों को खाली कराया जा रहा है। हालांकि, नाोगोर्नो-काराबाख की राजधानी स्टेपनकर्ट को खाली नहीं कराया गया है। जिन जगहों पर लोग अभी भी वहां फंसे हैं वे घरों के नीचे बने तहखानों में छिपकर गोलीबारी से अपनी जान बचा रहे हैं। उजड़े हुए घरों और डर के माहौल के बीच आने वाले कल पर संशय बरकरार है…

मारे गए सैनिक अब भी न्यूट्रल जोन में

इस बारे में खुद को रिपब्लिक घोषित करने वाले आर्तसाख के राष्ट्रपति के प्रेस सचिव ने फेसबुक पर जानकारी दी है। वगरम पोगोस्यान ने फेसबुक पर पोस्ट किया कि इंटेलिजेंस डेटा के मुताबिक अजरबैजान के 3 हजार सैनिकों की जान जा चुकी है और ज्यादातर के शव अभी न्यूट्रल जोन में ही हैं और उन्हें ट्रांसपोर्ट करने के लिए कुछ नहीं किया जा रहा है। वहीं, संयुक्त राष्ट्र ने हालात पर चिंता जताते हुए संघर्ष को खत्म करने की अपील की थी।

आर्मीनिया ने मार गिराए किलर ड्रोन, F-16

-f-16

आर्मीनिया के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता आर्तस्रन होवानिसयन ने कहा कि शुक्रवार तक 24 घंटे में 540 अजरबैजानी सैनिकों की जान जा चुकी है और 700 घायल हो गए हैं। उनके मुताबिक 45 हथियारबंद वाहन, 6 प्लेन, 3 हेलिकॉप्टर और 6 ड्रोन भी उड़ाए जा चुके हैं। आर्मीनिया ने यह भी दावा किया था क‍ि उसने अजरबैजान के 4 किलर ड्रोन और सैन्‍य विमान को मार ग‍िराया है। इससे पहले आर्मीनिया ने दावा किया था कि उसके एक सुखोई विमान को तुर्की के F-16 ने नष्‍ट कर दिया है।

अजरबैजान का दावा, इतनी तबाही मचाई
अजरबैजान के रक्षा मंत्रालय ने शनिवार को कहा है कि देश के सुरक्षाबलों ने और जगहों पर कब्जा कर लिया है। बयान जारी कर कहा गया है कि सेना ने दुश्मन से क्षेत्र को छुड़ा लिया है। दावा किया गया है कि सैनिकों के साथ दुश्मन के हथियार को भी तबाह कर दिया गया है। मंत्रालय के मुताबिक आर्मीनिया और आर्तसाख के 230 टैंक और दूसरे हथियारबंद वाहनों को उड़ा दिया गया है। इनके अलावा लॉन्च रॉकेट सिस्टम, मोर्टार, 38 एयर डिफेंस सिस्टम, 10 कमांड कंट्रोल सेंटरों को फड़ा दिया गया है। यही नही, S-200 एयर डिफेंस सिस्टेम को भी उड़ाने का दावा किया गया है।
एक-दूसरे पर लगाए हैं आरोपआर्मीनिया और अजरबैजान के बीच दशकों से चला आ रहा तनाव पिछले रविवार को बढ़ गया था जब दोनों देशों ने एक-दूसरे के ऊपर नागोर्नो-काराबाख में लाइन ऑफ कॉन्टैक्ट पर उकसावे का आरोप लगाया था। यह इलाका खुद को 1991 में सोवियत अजरबैजान से आजादी के बाद गणतंत्र घोषित कर चुका है। ताजा झड़प के बाद दोनों ओर सैन्य के साथ नागरिक नुकसान भी हुआ है।
loading...
loading...

Check Also

जब गर्भ में होता है बच्चा, तब मां की इस गलती से बन जाता है किन्नर !

स्त्री और पुरुष के अतिरिक्त भी मनुष्य की जाति में एक तीसरा वर्ग होता है ...