Tuesday , March 9 2021
Breaking News
Home / अपराध / ‘यह मेरी करनी का फल’ लिख सुसाइड करने वाली SI के केस में नया मोड़, इंस्‍ट्रक्‍टर पर रेप का आरोप

‘यह मेरी करनी का फल’ लिख सुसाइड करने वाली SI के केस में नया मोड़, इंस्‍ट्रक्‍टर पर रेप का आरोप

यूपी के बुलंदशहर में एक महिला सब इंस्पेक्टर आरजू पवार ने 31 दिसंबर की रात को सुसाइड नोट में ‘यह मेरी करनी का फल…’ लिखकर आत्महत्या कर ली थी, जिस मामले में अब नया मोड़ आ गया है। आरजू पवार के परिजनों की शिकायत के बाद मुरादाबाद के फिजिकल ट्रेनिंग इंस्‍ट्रक्‍टर (पीटीआई) पर अनूपशहर थाने में यौन शोषण की एफआईआर दर्ज कराई गई है और पुलिस इस मामले की जांच करने में जुटी हुयी है।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर स्थित अनूपशहर थाने में तैनात महिला सब इंस्पेक्टर आरजू पवार ने 31 दिंसबर को अपने किराए के मकान में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी, जिसके बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया था। एसएसपी और भारी पुलिस फोर्स ने मौके पर पहुंचकर आरजू की लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा और उसकेक बाद आरजू पवार का मोबाइल लेकर मामले की जांच-पड़ताल शुरू की।

जानकारी के मुताबिक 31 दिसंबर, 2020 की शाम को आरजू 7 बजे ड्यूटी से लौटी थी, इसके बाद वह खाना खाने के लिए भी बाहर नहीं निकली। जब मकान मालिक खाने के लिए एसआई को बुलाने पहुंचे तो कमरा अंदर से बंद था। मकान मालिक ने जब खिड़की से झांककर अंदर का नजारा देखा ताे वह सन्न रह गया। अंदर एसआई फंदे से लटकी पड़ी थी। आनन-फानन में मकाल मालिक ने इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही जिले के आलाधिकारी घटना स्थल पर पहुंचे। भारी पुलिस फ़ोर्स के साथ डॉग स्क्वायड टीम भी मौके पर पहुंची। पड़ताल शुरू की गई।

एसएसपी बुलंदशहर संतोष कुमार ने मौके की फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी भी कराई। पुलिस को मौके से एक मोबाइल और सुसाइड नोट मिला है। सुसाइड नोट में महिला सब इंस्पेक्टर आरजू पंवार ने लिखा है कि ‘ये उसकी करनी का फल है।’ एसआई आरजू पंवार शामली की मूलनिवासी थी। 2015 में वह सब इंस्पेक्टर के पद पर यूपी पुलिस में भर्ती हुई थी। अब आरजू पवार आत्महत्या मामले में उनके भाई ने एसएसपी से मिलकर एक शिकायत पत्र दिया, जिसमें आरोप लगाया है कि मुरादाबाद के पीटीआई उमेश शर्मा राजू पवार के गुरु रहे हैं। उमेश शर्मा रूप से बुलंदशहर के रहने वाले है। उमेश बुलंदशहर आए थे और उन्होंने आरजू पवार को अपने पास मिलने बुलाया था।

आरजू के भाई ने आरोप लगाया है कि पीटीआई उमेश शर्मा ने आरजू पवार को नशीली गोली मिलाकर चाय पिलाई और उसके बाद उसके साथ दरिंदगी की। उमेश शर्मा पर रेप का वीडियो बनाने का आरोप भी आरजू के भाई ने लगाया है।

आरजू के भाई का आरोप है कि रेप का वीडियो दिखाकर पीटीआई उमेश शर्मा मेरी बहन को ब्लैकमेल करते रहे। यही नहीं पीटीआई आरजू पवार पर शादी तोड़ने का भी दबाव बना रहे थे, जिससे परेशान होकर आरजू पवार ने फांसी लगा ली थी।

इस मामले में अनूपशहर इंस्पेक्टर राम सेन का कहना है कि आरोपी पीटीआई उमेश शर्मा के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है और मामले की जांच तफ्तीश से की जा रही है। आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी।

loading...
loading...

Check Also

इस विभाग में निकली जूनियर इंजीनियर के पदों पर सीधी भर्ती, यहाँ पढ़े पूरी डिटेल

PPSC Recruitment 2021 Notification: पंजाब लोक सेवा आयोग ने जल संसाधन विभाग एवं जल संसाधन प्रबंधन ...