Saturday , July 4 2020
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / इतंजार हुआ ख़त्म : यूपी बोर्ड के नतीजे रोल नंबर से करें चेक, ये है Direct Link

इतंजार हुआ ख़त्म : यूपी बोर्ड के नतीजे रोल नंबर से करें चेक, ये है Direct Link

लखनऊ। उत्तर प्रदेश 10वीं-12वीं बोर्ड (UP Board Result 2020) परीक्षा के नतीजे (Result) आज (शनिवार) घोषित कर दिए गए हैं। उपमुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री दिनेश शर्मा ने नतीजों का ऐलान किया। प्रदेश में करीब 56 लाख से ज्यादा छात्र-छात्राओं ने परीक्षाएं दी थी। बोर्ड के आधिकारिक वेबसाइट upresults.nic.in और upmsp.edu.in पर जाकर आप अपना रिजल्ट डाउनलोड कर सकते हैं। यूपी बोर्ड रिजल्ट से जुड़ी अहम जानकारियां और खबरें पढ़ने के लिए इस पेज को रिफ्रेश करते रहें।

परीक्षा परिणाम के लिए इस लिंक पर क्लिक करें– http://upresults.nic.in/

उप्र बोर्ड हाईस्कूल-इंटरमीडिएट परीक्षा 2020 के परिणाम एक साथ पहली बार राज्य की राजधानी से प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने जारी किया। इससे पहले परीक्षा के परिणाम बोर्ड मुख्यालय प्रयागराज से जारी होते थे। हालांकि इससे पहले बोर्ड के सभापति एवं सचिव में आपसी तालमेल नहीं होने के चलते दो बार हाईस्कूल के परिणाम लखनऊ स्थित माध्यमिक शिक्षा निदेशक (सभापति) के कार्यालय से जारी हो चुके हैं।

शिक्षा विभाग से मिली जानकारी के अनुसार, बोर्ड परीक्षा के परिणाम 27 जून को दोपहर 12.00 बजे मिल जाएंगे। इस बार बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट 2020 की परीक्षा में 56,07,118 परीक्षार्थी शामिल हुए। जिसमें हाईस्कूल के 30,22,607 परीक्षार्थी और इंटरमीडिएट के 25,84,511 परीक्षार्थी हैं। इसके लिए प्रदेश भर में 7784 परीक्षा केन्द्र बनाए गए। इस बार प्रत्येक परीक्षा केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए थे। बोर्ड परीक्षाओं की निगरानी के लिए प्रदेश भर में कुल 19 लाख कैमरे लगाए गए।

इसके अलावा 1.88 लाख कक्ष निरीक्षक नियुक्त किए गए थे, जिनको परीक्षा केंद्र पर अपने पहचानपत्र और आधार कार्ड के साथ ड्यूटी करने को कहा गया था। इस बार संवेदनशील परीक्षा केन्द्रों की संख्या 700 तथा अतिसंवेदनशील परीक्षा केन्द्रों की संख्या 275 थी।

कोरोना संकट के चलते इस बार छात्रों को डिजिटल अंक पत्र और प्रमाण पत्र दिए जाएंगे। अंक और प्रमाण पत्र को वेबसाइट से डाउनलोड कर स्कूलों से छात्रों को वितरित किए जाएंगे। डिजिटल अंक पत्र और प्रमाण पत्र तीन दिनों के अंदर स्कूलों के प्रधानाचार्य के माध्यम से छात्रों को मिल जाएंगे।

 

Check Also

कॉल रिकॉर्ड्स से बड़ा खुलासा, विकास दुबे का ‘मुखबिर’ था ये पुलिसवाला, रेड की हर खबर देता रहा !

कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों की जान लेने वाला हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे अभी भी फरार है। ...