Sunday , November 29 2020
Breaking News
Home / धर्म / इस करवाचौथ पति जरूर करें ये 3 काम, दोनों को जीवन में मिलेगी खूब तरक्की

इस करवाचौथ पति जरूर करें ये 3 काम, दोनों को जीवन में मिलेगी खूब तरक्की

भोपाल। करवा चौथ का त्योहार हिंदू रीति रिवाजों में कई मयानों में बेहद खास होता है। करवा चौथ का व्रत महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिए रखती हैं। करवा चौथ का व्रत कार्तिक हिन्दू माह में कृष्ण पक्ष की चतुर्थी पर किया जाता है। इस बार यह व्रत आज 4 नवम्बर को है। बदलते समय के साथ अब पुरुष भी अपनी पत्नी के लिए करवाचौथ कर व्रत कर उनकी लंबी आयु की कामना करते हैं।

इस दिन शिव पार्वती, कार्तिकेय, गणेश तथा चंद्रमा की पूजा की जाती है। महिलाएं सुबह से ही निर्जला व्रत रखती हैं और रात को चंद्रमा को अर्घ्य देकर ही अपना व्रत खोलती हैं। शहर के ज्योतिषाचार्य पंडित जगदीश शर्मा बताते है कि इस बार करवाचौथ में महासंयोग बन रहा है। इस महासंयोग में पति की लंबी उम्र के लिए पत्नियां कुछ उपाय भी कर सकती है। बदलते समय में ये व्रत पति भी रखते है। इस करवाचौथ पति-पत्नी को जरूर करने चाहिए ये 3 काम…..

महिलाएं करें ये 3 काम

1. पति-पत्नी के बीच प्रेम संबंध बेहतर करना चाहते हैं तो करवा चौथ के दिन महिलाओं को गणेश जी को गुड़ चढ़ाना चाहिए क्योंकि इससे उनके दाम्पत्य जीवन में भी मिठास घुल जाएगी।

2. कहा जाता है कि अगर पति-पत्नी के बीच झगड़ा रहता है या मनमुटाव होता रहता है तो इससे छुटकारा पाने के लिए करवाचौथ के दिन झाडू की दो सींकों को उलटा और सीधा क्रम में रखें और अब इन्हें नीले धागे से बांधकर घर के दक्षिण-पश्चिम दिशा में रख दें। अगर आप ऐसा करते हैं तो वैवाहिक जीवन में सुधार आएगा।

3. मान्यता है कि अगर आप चाहती हैं कि आपका पति आपसे हमेशा प्यार करें और आपको कभी धोखा न दें तो करवाचौथ के दिन एक लाल कागज पर सुनहरे पेन से अपने पति का नाम लिखें और फिर उसे एक लाल कपड़े में दो गोमती चक्र और 50 ग्राम पीली सरसों के साथ रख लें इसके बाद पोटली को छिपाकर रख दें. बाद में उसे एक साल बाद नदी में प्रवाहित कर दें. ऐसा करने से आपका पति हमेशा आपकी बात मानेगा।

पति करें ये 3 काम

एकाग्रचित होकर सुनें कथा

पति इस बात को ध्यान रखें कि करवा चौथ में जितना महत्व पूजा और व्रत का होता है, उतना ही करवा चौथ की कथा का भी है। कथा में भगवान गणेशजी के वरदान की कहानी है जिसे सुनने से भाग्य जागता है। इसलिए करवाचौथ के दिन हर पति को इस कथा को ध्यान से सुनना चाहिए।

वायदे पूरे करें

पति-पत्नी का जन्म-जन्मांतर का अटूट प्रेम बंधन तभी जीवंत रह सकता है जबकि आपने सच्चे वायदे पूरे करने की कसम खाई हो व उसे साकार रूप प्रदान किया हो। जीवनसाथी से धोखा करना सरासर बेईमानी है, जिससे आपसी विश्वास को ठेस पहुंचती है। इन सारे संकल्पों को आत्मसात कर लें। याद रखिए करवा चौथ का असली महत्व तभी सार्थक होगा, जब आप दोनों निश्चिंत होकर एक-दूसरे के सहयोग से अपनी दुनिया सजाएंगे।

loading...
loading...

Check Also

जोरू के पक्के गुलाम होते हैं ये नाम वाले पति, जानिए इनमें आप तो नहीं

कहा जाता है की शादी  सिर्फ दो  लोगों का मिलन नहीं होता बल्कि दो आत्माओं ...