Tuesday , January 19 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / इस सरकारी प्लान से सालाना मिलेगी 60000 रुपए पेंशन, अभी बन जाएं इसके सदस्य

इस सरकारी प्लान से सालाना मिलेगी 60000 रुपए पेंशन, अभी बन जाएं इसके सदस्य

रिटायरमेंट के बाद खर्चों को पूरा करने के लिए सरकार ने कई पेंशन प्‍लान (Penison Plan) शुरू किए हैं. इनमें New Pension Scheme, Atal Pension Scheme, PMSYM जैसे प्‍लान शामिल हैं. सभी प्‍लान एक से बढ़कर एक खूबियों वाले हैं. इन प्‍लान में ATAL Pension Yojana उन लोगों के लिए अच्‍छा ऑप्‍शन है, जो PF के दायरे में नहीं आते.

चालू कारोबारी साल के दौरान अब तक 40 लाख से ज्‍यादा लोगों ने इसमें रजिस्‍ट्रेशन कराया है. पेंशन निधि नियामक और विकास प्राधिकरण (PFRDA) के मुताबिक इसके साथ अटल पेंशन योजना में कुल अंशधारकों की संख्या 2.63 करोड़ को पार कर चुकी है.

सरकार की इस पेंशन योजना के तहत 18 साल से लेकर 40 साल की उम्र तक के व्यक्ति शामिल हो सकते हैं. इसमें अंशदान करने वालों को 60 साल की उम्र के बाद एक निश्चित पेंशन रकम या अंशधारक की मौत के बाद उसके जीवनसाथी को उतनी ही गारंटीड पेंशन देने का प्रावधान है.

60 साल बाद मिलती है Pension
इसके अलावा अंशधारक के 60 साल की आयु होने तक कुल जमा पेंशन फंड Nominee को वापस करने की भी व्यवस्था है. PFRDA ने कहा कि 1 अप्रैल 2020 से 13 नवंबर 2020 के बीच 40 लाख से ज्‍यादा नए लोगों ने अटल पेंशन योजना में पंजीकरण कराया है.

APY के 2 बेनिफिट्स
APY के दो फायदे हैं, पहला पेंशन और दूसरा इनकम टैक्‍स में छूट. यह स्कीम 60 साल की उम्र से लोगों को 1000 से 5000 रुपये तक की मिनिमम गारंटीड मंथली पेंशन देती है.

असंगठित क्षेत्र (Pension Plan for Unorganised Sector)
मोदी सरकार ने 2015 में APY की शुरुआत की थी. इसे असंगठित क्षेत्र के लोगों के लिए बनाया गया था. 40 साल तक की उम्र में इसका खाता खोला जा सकता है.

टैक्‍स छूट (Tax Benefit)
APY खाते में आप जो भी रकम जमा करेंगे उस पर आपको इनकम टैक्‍स छूट मिलेगी. इस‍के लिए खाते में जमा रकम की रसीद दिखानी होगी.

NPS से अलग (Other than NPS)
यह प्‍लान नेशनल पेंशन सिस्टम (NPS) से अलग है. NPS में 60 साल की उम्र तक जमा राशि के आधार पर पेंशन तय होती है जबकि APY में पेंशन 1,000 से 5,000 रुपये के बीच तय रहती है. पेंशन कितनी बनेगी यह आपकी हर माह जमा होने वाली रकम पर निर्भर करता है.

loading...
loading...

Check Also

BJP सांसद हेमा मालिनी के होटल का खर्च उठाना चाहते हैं आंदोलनकारी किसान, जानिए कारण

नई दिल्ली। नए कृषि कानूनों ( Farm Law ) को लेकर किसानों का प्रदर्शन लगातार जारी ...