Monday , January 18 2021
Breaking News
Home / ख़बर / एक ट्वीट किए दुनिया के सबसे अमीर आदमी, नतीजा- एक कंपनी को हो गया 618% का फायदा

एक ट्वीट किए दुनिया के सबसे अमीर आदमी, नतीजा- एक कंपनी को हो गया 618% का फायदा

वॉट्सऐप की प्राइवेसी में बदलाव किए जाने के बाद दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति और टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने गुरुवार (7 जनवरी, 2021) को अपने फॉलोवर्स को वॉट्सऐप छोड़ कर सिग्नल ऐप यूज करने का आग्रह किया। बता दें कि व्हाट्सऐप की ही तरह सिग्नल एक मैसेजिंग ऐप है। हालाँकि उन्होंने सोचा भी नहीं होगा कि उनके इस ट्वीट की वजह से सिग्नल नाम के ही एक दूसरी कंपनी (जिसका सिग्नल मैसेजिंग ऐप से कोई संबंध भी नहीं है) के स्टॉक की बड़े पैमाने पर खरीदारी शुरू हो जाएगी।

जैसे ही मस्क ने अपने फॉलोवर्स को ओपन-सोर्स ऐप सिग्नल का उपयोग करने के लिए कहा, उसी नाम से एक अस्पष्ट और अपेक्षाकृत अज्ञात कंपनी “सिग्नल एडवांस” के शेयर्स की कीमत पर भारी उछाल देखने को मिला। गुरुवार को इस अज्ञात कंपनी के शेयर्स में 527 प्रतिशत की भारी वृद्धि देखी गई, तो वहीं शुक्रवार को कंपनी की 91 प्रतिशत की वृद्धि हुई। दो दिनों के अंदर, सिग्नल एडवांस का शेयर मूल्य, जो पहले 60 प्रतिशत के आसपास था, वह बढ़कर 7.19 डॉलर हो गया।

बता दें कि मस्क लोगों से सिग्नल मैसेजिंग ऐप का इस्तेमाल करने की बात कह रहे थे, जोकि एक नॉन प्रॉफिट ऑर्गनाइजेशन द्वारा संचालित किया जाता है। यह व्हाट्सएप, फेसबुक मैसेंजर, टेलीग्राम जैसे अन्य टेक्सटिंग ऐप के विकल्प के रूप में कार्य करता है। हालाँकि मस्क की ओर से Signal ऐप के इस्तेमाल की सलाह के बाद लोग इस ऐप पर रजिस्ट्रेशन के लिए टूट पड़े, जिसके चलते Signal app का रेजिस्ट्रेशन सिस्टम ही क्रैश हो गया।

एक अज्ञात कंपनी के स्टॉक की खरीदारी और सिग्नल ऐप के सर्वर का क्रैश मस्क द्वारा किए गए ट्वीट के बाद से शुरू हुआ, जोकि टेस्ला सीईओ के बढ़ते प्रभाव को रेखांकित करता है। दिलचस्प बात यह है कि इलेक्ट्रिक कार निर्माता टेस्ला (Tesla) के CEO एलन मस्क गुरुवार को दुनिया के सबसे अमीर शख्स बन गए। वहीं शुक्रवार को टेस्ला अमेरिका की पाँचवीं सबसे मूल्यवान कंपनी बन गई है।

गौरतलब है कि सिग्नल एडवांस के शेयर की कीमत में अभूतपूर्व उछाल को देखते हुए सिग्नल मैसेजिंग ऐप ने एक ट्वीट पोस्ट करते हुए लोगों को जानकारी दी कि उनका सिग्नल एडवांस कंपनी से कोई लेना-देना नहीं है।

बता दें कि सिग्नल एक क्रॉस-प्लेटफ़ॉर्म और एन्क्रिप्टेड मैसेजिंग सेवा है, जिसे सिग्नल फाउंडेशन और सिग्नल मैसेंजर एलएलसी द्वारा विकसित किया गया है। न्यू यॉर्कर में प्रकाशित एक लेख के अनुसार, सिग्नल पूरी तरह से डोनेशन पर चलता है। चूँकि सिग्नल फाउंडेशन एक नॉन प्रॉफिट ऑर्गनाइजेशन है, इसलिए यह स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड भी नहीं है।

दूसरी ओर, सिग्नल एडवांस, जो अमेरिकी शेयर बाजार में पिछले दो दिनों से काफी बढ़त बनाए हुए है, को टेक्सास में 1992 में बायोडाइन नाम से स्थापित किया गया था। यह चिकित्सा और कानूनी श्रमिकों के लिए सेवा प्रदान करती है। इस कंपनी ने बाद में स्वास्थ्य देखभाल क्षेत्र में और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में खुद को स्थानांतरित कर दिया और अपना नाम बदलकर सिग्नल एडवांस कर दिया। कंपनी ने 2014 में अपने शेयर बाजार की शुरुआत की थी।

खबर साभार opindia 

loading...
loading...

Check Also

नागोर बस हादसा : आग और करंट के बीच कांच तोड़ पहले खुद निकला दर्शन, फिर 2 बहनों को बचाया

जालोर में शनिवार रात करंट की चपेट में आने से बस में आग लगने के ...