Sunday , September 27 2020
Breaking News
Home / सेहत / एड्स होने पर ऐसे इशारे देता है हमारा शरीर, वक्त पर पहचान कर हो जाएं सावधान!

एड्स होने पर ऐसे इशारे देता है हमारा शरीर, वक्त पर पहचान कर हो जाएं सावधान!

आज कल भाग दौड़ से भरी जिंदगी में लोग अपनी सफलता के पीछे इस रफ्तार से भाग रहे हैं कि वे अपने स्वास्थ्य को पीछे ही छोड़ चुके हैं। ऐसे में कभी-कभी शरीर के साथ खिलाड़वाड़ करने के भयंकर परिणाम भी भुगतने पड़ सकते हैं। दरअसल ऐसे लोगों के साथ एक बड़ी बात होती है कि वे शरीर से जुड़ी छोटी-मोटी परेशानियों को अक्सर नजरअंदाज कर दिया करते हैं, जबकि हकीकत यह है कि ये छोटी-मोटी परेशानिया किसी भयंकर परेशानी का इशारा करती है।

ऐसे में आज आपको एक ऐसे ही बीमारी के बारें में बता रहे है, जो लोगों के बीच लाइलाज और जानलेवा बीमारी के तौर पर अपनी पहचान बना चुका है। लेकिन अगर समय पर इस बीमारी का पता लग जाए और जरूर उपचार किए जाए तो आप इससे भी अपने आप को बचा सकते है। आम तौर पर इस बीमारी को एड्स के तौर पर जानते हैं।

आपको बता दें कि एड्स HIV वायरस फैलने की वजह से होता है। बताया जाता है कि वायरस फैलने के कारण इंसान प्राकृतिक प्रतिरोधी शक्ति खो देता है, जिसके कारण आप इसके चपेट में आ जाते हैं। बता दें कि शरीर में एड्स के वायरस फैलने से संबंधित कई ऐसे संकेत है जो पहले दिखते हैं, लेकिन आम तौर पर लोग इसे नजरंदाज कर देते हैं।

लेकिन अगर समय पर इसकी पहचान कर ली जाए तो आप इस जानलेवा बीमारी के खतरे को टाल सकते हैं। ऐसे में आज आपको इसके कुछ ऐसे ही लक्षण बता रहे हैं, ताकि आप समय रहते इसकी पहचान कर सके और इसके खिलाफ लड़ाई का हिस्सा बन सकें!

लक्षण

एक हप्ते या इससे अधिक समय तक लूज मोशन की परेशानी और इलाज के बाद भी ठीक नहीं होना आपके लिए बुरे संकेत हैं, अगर ऐसा होता है तो आप तुरंत ही एचआईवी टेस्ट करा कर इस बात को क्लियर करें!

अक्सर थकान महसूस करना, लगातार वजन कम होने के क्रम में भी आप जांच कराएं, क्योंकि ऐसे संकेत भी आपके लिए खतरे से खाली नहीं है

शरीर पर लाल या बैंगनी रंग के निशान दिखे तो भी आप तुरंत इसकी जांच कराए।

काफी दिनों से खांसी की परेशानी भी आपके लिए बड़ी परेशानी बन सकती है, ऐसी अवस्था में भी आप जल्द से जल्द जांच कराएं।

Check Also

कोरोना की किस वैक्सीन को मंजूर करेगी सरकार, शर्त बताई ICMR

कोविड-19 के लिए टीका 100 पर्सेंट असर करे, ऐसा मुश्किल है। इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल ...