Thursday , July 16 2020
Breaking News
Home / ख़बर / एमपी में कोरोना : ग्वालियर-चंबल संभाग को महंगा पड़ा अनलॉक, एकसाथ मिले इतने मरीज

एमपी में कोरोना : ग्वालियर-चंबल संभाग को महंगा पड़ा अनलॉक, एकसाथ मिले इतने मरीज

मध्य प्रदेश में बीते 24 घंटे के दौरान 203 नए मरीज मिले। इसके साथ कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 12798 तक पहुंच गई, जबकि चार नई मौतों की पुष्टि हुई। अब तक 546 मरीज बीमारी से जान गंवा चुके हैं। अब तक कुल 9804 स्वस्थ भी हुए हैं।  नए केस में सबसे ज्यादा इंदौर और मुरैना में 36-36 मरीज मिले। राजधानी भोपाल में 31 मरीज मिले। शुक्रवार को इंदौर में 3 और धार में एक मरीज की मौत हुई।

ग्वालियर-चंबल संभाग में कोरोना तेजी से बढ़ रहा है। शुक्रवार को कोरोना संक्रमण के कुल 42 नए मामले सामने आए। इनमें मुरैना के 19, ग्वालियर के 13 और भिंड में 10 लोगों को कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। वहीं मुरैना से डिलीवरी के लिए ग्वालियर लाई गईं सुनीता जैन की रिपोर्ट भी आज पॉजिटिव आई। सुनीता का गुरुवार को निधन हो चुका है। वह कमलाराजा अस्पताल में भर्ती थी।

ग्वालियर दुग्ध संघ के सीईओ सैयद साबिर अली और उनकी बेटी रीशा की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। जबकि अली की पत्नी पहले ही संक्रमित मिल चुकी हैं। इनके साथ ही जेबी मंघाराम फैक्टरी के प्लानिंग ऑफिसर दिनेश तोमर, फैमिली कोर्ट में पदस्थ स्टेनो का बेटा मयंक राठौर और बिजली कंपनी के लाइनमैन की पत्नी मीना बाथम की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। लधेड़ी में चाट का काम करने वाला महेश और गेंडे वाली सड़क निवासी 10 वर्षीय सौरभ भी संक्रमित निकला है।

यहां बता दें कि गजराराजा मेडिकल की वायरोलॉजिकल लैब की रिपोर्ट में 10 लोग संक्रमित निकले, जबकि जिला अस्पताल स्थित ट्रूनेट लैब में तीन संक्रमित निकले। इसमें फरीदाबाद से लौटे निजी कंपनी के प्रोडक्शन मैनेजर केके शर्मा और उनकी पत्नी पूनम शर्मा भी शामिल हैं।

सागर में 10 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले

जिले में आज 10 कोरोना संक्रमित मरीज मिले। इनमें देवरी के थाना प्रभारी की भोपाल से मिली पॉजिटिव रिपोर्ट शामिल है। जिले में कुल केसों की संख्या 327 तक पहुंच गई है। आज सात मरीज स्वस्थ्य होकर घर वापस भी हुए। स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या अब 233 तक पहुंच गई है।

छिंदवाड़ा में मिले दो नए मरीज

जिले के परासिया और पांढुर्णा तहसील में एक-एक कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले। यह मरीज ईडीसी वार्ड नं 2 परासिया और एक पांढुर्णा नगर के रहने वाले हैं।

Check Also

कोरोना: हॉस्पिटल ने मरीज़ का माफ किया ₹1.52 करोड़ का बिल, वजह भी जान लीजिये

कोरोना वायरस की वजह से बहुत से लोग अस्पतालों में भर्ती हैं। सरकारी अस्पताल में ...