Sunday , February 28 2021
Breaking News
Home / अपराध / सावधान! 10 रुपये देकर 900 पाएं.. ऐसे झांसे में आप कतई ना आएं..

सावधान! 10 रुपये देकर 900 पाएं.. ऐसे झांसे में आप कतई ना आएं..

नई दिल्ली
सावधान! दिल्ली में इन दिनों ऐसे ठग सक्रिय हैं जो लोगों को 1 से 100 तक का नंबर लगाने पर जीतने वाले को हाथों-हाथ 90 गुना तक पैसा देने का लालच देकर ठग रहे हैं। ऐसे ठग फुटपाथ, चौराहों, बाजारों, स्कूलों के आसपास और ऐसी दूसरी जगहों पर लोगों को अपना निशाना बना रहे हैं जहां भीड़ इकट्ठी हो सकती है। इसके बाद ये अपना खेल शुरू करते हैं। ठग जीतने वाले को 10 रुपये के बदले 900 रुपये और 20 रुपये के बदले 1800 रुपये देने का भारी मुनाफा देने का दावा करते हैं।

सट्टा पर्ची लगाने वाले कई पकड़ाए
इस तरह के कई मामले हाल ही में साउथ और साउथ-वेस्ट दिल्ली में सामने आए हैं, जहां 1 से 100 नंबर की सट्टा पर्ची लगाने वाले ठगों को पकड़ा गया है। ताजा मामले में वसंत कुंज (साउथ) थाना इलाके का है जहां 16 जनवरी की शाम करीब 7:30 बजे एक शख्स रंगपुरी गांव के कम्युनिटी सेंटर के पीछे लोगों को नंबर गेम में उलझाकर उनके नंबर सट्टा पर्ची पर लिख रहा था। मौके पर पहुंची पुलिस ने यहां से एक ठग को पकड़ा, जो जमा भीड़ में से पहले लोगों के नंबर सट्टा पर्ची पर लिख रहा था। वह लोगों को बता रहा था कि 1 से 100 नंबर में उनके द्वारा जो भी नंबर लगाया जाएगा अगर उसका वही नंबर निकल जाता है तो उसे लगाए गए पैसों का 90 गुना ज्यादा मिलेगा। इस तरह से इसके पास 100 सट्टा पर्ची बरामद हुई थी।

पहले भी सामने आईं कई घटनाएं
इसी थाना इलाके में 4 जनवरी को भी एमसीडी स्कूल, इजराइल कैंप के पास भी एक ठग को पकड़ा गया था। वह भी इसी तरह से नंबर गेम में लोगों को उलझाकर उनके नंबर सट्टा पर्ची पर लिख रहा था। जबकि साउथ दिल्ली के कोटला मुबारकपुर थाना इलाके में 14 जनवरी को पुलिस को सूचना मिली थी कि एक शख्स नंबर गेम में लोगों के नंबर सट्टा पर्ची पर लिख रहा है। यहां यह 0 से 99 तक के नंबर लगाने पर विजेता को 90 गुना तक देने की बात कर रहा था। इसे भी पुलिस ने पकड़ लिया था। 16 जनवरी को सरोजनी नगर थाना इलाके में खाली पड़े पार्क में चार-पांच लोग सरेआम जुआ खेलते पकड़े गए थे।

कैसे बचें ऐसे फ्रॉड से?
पुलिस का कहना है कि जो ठग लोगों को 10 रुपये लगाने पर 900 रुपये देने का वादा करते हैं, वह खुद फटेहाल हैं। पुलिस पूछताछ में मुलजिमों ने बताया कि वे लोगों को नंबर गेम के नाम पर बेवकूफ बनाकर अपनी कमाई करते हैं। मेहनत-मजदूरी करने वाले और कई नौजवान उनके झांसे में आ जाते हैं जिनकी जेब में कम पैसे होते हैं। वे 90 गुना ज्यादा पैसा मिलने के लालच में फंसकर अपनी जेब के असल पैसे भी हमें दे डालते हैं। पुलिस का कहना है कि इस तरह के झांसे में ना आएं।

loading...
loading...

Check Also

Corona Vaccination : 1 मार्च से किसको, कैसे और कितने में लगेगा कोरोना टीका, जानें हर सवाल का जवाब

नई दिल्ली कोरोना के खिलाफ देश में 1 मार्च से दूसरे चरण का टीकाकरण अभियान ...