Sunday , March 7 2021
Breaking News
Home / क्रिकेट / कप्तान डिकॉक से नहीं झेला जा रहा है क्रिकेट का दबाव, 28 साल की उम्र में लिया बड़ा फैसला

कप्तान डिकॉक से नहीं झेला जा रहा है क्रिकेट का दबाव, 28 साल की उम्र में लिया बड़ा फैसला

कोरोना वायरस के कारण बॉयो-सेक्योर वातावरण में रहते हुए क्रिकेट खेलना प्रोफेशनल खिलाड़ियों के लिए काफी कठिन होता जा रहा है। तमाम खिलाड़ी बॉयो-बबल की परेशानियों के बारे में बात कर चुके हैं।

अब दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम के कप्तान क्विंटन डिकॉक ने मानसिक स्वास्थ्य समस्या के कारण ब्रेक लेने का निर्णय लिया है। डिकॉक भी लंबे समय से बॉयो-सेक्योर वातावरण का हिस्सा बने हुए हैं।

आइए जानते हैं पूरी खबर।

मेडिकल सलाह पर डिकॉक ने लिया कुछ हफ्तों का ब्रेक

डिकॉक ने शुक्रवार से शुरु हो रही दक्षिण अफ्रीका की घरेलू टी-20 प्रतियोगिता में हिस्सा नहीं लेने का निर्णय लिया है।

साउथ अफ्रीकन क्रिकेटर्स एसोसिएशन (SACA) के CEO एंड्र्यू ब्रीट्ज्के ने ESPNCricinfo से कहा, “मेडिकल सलाह पर डिकॉक कुछ हफ्तों के ब्रेक पर रहेंगे। साउथ अफ्रीकन क्रिकेटर्स एसोसिएशन और क्रिकेट साउथ अफ्रीका लगातार इस मामले में उन्हें सपोर्ट देता रहेगा।”

वह अप्रैल में पाकिस्तान के खिलाफ होने वाली घरेलू सीरीज के लिए वापसी का लक्ष्य लेकर चल रहे हैं।

प्रतिक्रिया

हाल ही में डिकॉक ने बॉयो-बबल को बताया था कठिन

श्रीलंका के खिलाफ दूसरा टेस्ट जीतने के बाद डिकॉक ने कहा था कि बॉयो-बबल में रहना काफी कठिन है।

उन्होंने आगे कहा था, “हम बबल में फंसे हैं और कुछ जगहों पर निश्चित समय के लिए लॉकडाउन में रहेंगे जो कि काफी खराब चीज है। क्वारंटाइन के कारण दौरे लंबे हो जा रहे हैं। आप कमरे में बंद रहते हैं और सुरक्षित घोषित होने पर ही निकलते हैं जो काफी कठिन है। मुझे नहीं पता यह कब तक रहेगा।”

फॉर्म

बेहद खराब रही है डिकॉक की हालिया फॉर्म

लिमिटेड ओवर्स सीरीज में दक्षिण अफ्रीका के कप्तान रहने वाले डिकॉक को इस सीजन की शुरुआत से पहले टेस्ट टीम का भी कप्तान नियुक्त किया गया था और उनके लिए यह सीजन काफी निराशाजनक रहा है।

टेस्ट टीम का कप्तान बनने और नंबर-5 पर प्रमोट किए जाने के बाद से डिकॉक छह पारियों में केवल 74 रन ही बना सके हैं। पाकिस्तान दौरे पर डिकॉक चार पारियों में केवल 46 रन बना सके थे।

बॉयो-सेक्योर

लगातार बॉयो-सेक्योर वातावरण में हैं डिकॉक

लगातार बॉयो-सेक्योर वातावरण में रहने का असर भी डिकॉक पर पड़ता दिख रहा है। पिछले साल सितंबर से डिकॉक लगातार बॉयो-सेक्योर वातावरण में हैं।

सितंबर से लेकर नवंबर की शुरुआत तक IPL और फिर इसके बाद इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू लिमिटेड ओवर्स सीरीज खेलने वाले डिकॉक ने दिसंबर में श्रीलंका के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज भी खेली थी।

इसके बाद टीम तुरंत ही पाकिस्तान दौरे पर आ गई थी। लगभग छह महीने से वह लगातार बॉयो-सेक्योर वातावरण में हैं।

ग्लेन मैक्सवेल

पिछले साल मैक्सवेल ने भी लिया था इसी कारण ब्रेक

कोरोना शुरु होने से पहले ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल ने भी क्रिकेट से अनिश्चित समय के लिए ब्रेक लिया था। उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ टी-20 सीरीज़ में हिस्सा लेने वाली टीम को छोड़ दिया था।

हालांकि, मैक्सवेल एक महीने के अंदर ही वापस आ गए थे और उन्होंने बिग बैश लीग में अच्छा प्रदर्शन किया था। इसके बाद IPL में वह 10.75 करोड़ रूपये में बिके थे।

मैक्सवेल के लिए IPL बेहद निराशाजन रहा था।

loading...
loading...

Check Also

1 अप्रैल से हर कार में जरूरी होगा ये खास फीचर, आपकी सुरक्षा के लिए सरकार ने उठाया कदम

नई दिल्ली। अप्रैल की पहली तारीख से कार चलाना पहले से अधिक सुरक्षित हो जाएगा। ...