Thursday , November 26 2020
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / कानपुर में रेप के बाद 6 साल की बच्ची का चीर दिए पेट, दरिंदे खा गए लिवर और फेफड़ा

कानपुर में रेप के बाद 6 साल की बच्ची का चीर दिए पेट, दरिंदे खा गए लिवर और फेफड़ा

कानपुर
यूपी के कानपुर में 6 साल की बच्‍ची की नृशंस हत्‍या के मामले में चौकाने वाले खुलासे हुए हैं। इस मामले में गिरफ्तार दंपती ने अपने भतीजे से बच्‍ची की हत्‍या कराई थी। शादी के 20 साल बाद भी पति-पत्‍नी का कोई बच्‍चा नहीं था, इसलिए उन्‍होंने अपने भतीजे से बच्‍ची की हत्‍या कर लिवर की मांग की थी। भतीजे ने अपने एक साथी संग पहले बच्‍ची से रेप किया, फिर चाकू से पेट फाड़कर उसका लिवर लाकर चाची को दिया था। दंपती ने लिवर खाकर बाकी अंग ठिकाने लगा दिए थे। बता दें कि इस मामले को संज्ञान में लेते हुए मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने भी ट्वीट किया था।

घाटमपुर कोतवाली क्षेत्र स्थित भदरस गांव में दिवाली की शाम 6 साल की बच्ची लापता हो गई थी। दीपावली पूजन के वक्त परिजनों को जानकारी हुई कि बच्ची लापता है। परिजन समेत आस-पड़ोस के लोग पूरी रात बच्ची को तलाशते रहे, लेकिन उसका कहीं कुछ पता नहीं चला था। रविवार सुबह बच्ची का शव क्षत-विक्षत हालत में सरसो के खेत में मिला था। बच्ची के दोनों फेफड़े समेत शरीर के कई अंग गायब थे। इसके साथ ही बच्ची के हाथ-पैर में लाल रंग लगा हुआ था।

बच्‍ची के पड़ोसी हैं हत्‍यारोपी
एसपी ग्रामीण बृजेश श्रीवास्तव के मुताबिक, मृतक बच्‍ची के पड़ोस में रहने वाले अंकुल कुरील और वीरन कुरील को पुलिस ने रविवार को ही गिरफ्तार किया था। हत्यारोपी अंकुल के चाचा परशुराम ने घटना को अंजाम देने के लिए वीरन और अंकुल को रुपए दिए थे। अंकुल और वीरन ने वारदात को अंजाम देने से पहले शराब पी थी। रेप के बाद अंकुल ने बच्ची की हत्या कर उसका लिवर निकाल कर परशुराम को दिया था।

एसपी ग्रामीण ने बताया कि परशुराम की शादी 1999 में हुई थी। परशुराम के बच्चे नहीं हो रहे थे। इसलिए परशुराम ने अंकुल और वीरन को पैसे देकर यह काम कराया था। परशुराम और उसकी पत्नी को अरेस्ट किया गया है। दोनों से पूछताछ जारी है, वहीं अंकुल और वीरन को जेल भेज दिया गया है।

loading...
loading...

Check Also

महिलाओं को घर बैठे कारोबारी बना देगी केंद्र सरकार, इस तरह देगी ₹1 लाख

बदलते समय के साथ महिलाओं को भी बराबरी का दर्जा दिया जाना चाहिए। इसी मकसद ...