Friday , April 23 2021
Breaking News
Home / ऑफबीट / कॉलेज से लेकर जेल तक में मचा हड़कंप, कोरोना ने दिल्ली में तोड़े बीते सारे रिकॉर्ड…

कॉलेज से लेकर जेल तक में मचा हड़कंप, कोरोना ने दिल्ली में तोड़े बीते सारे रिकॉर्ड…

देश के लिए हर रोज कोरोना वायरस जानलेवा बनता जा रहा हैं. आए दिन देश से कोरोना के हजारों नए मामले सामने आ रहे हैं. जिससे स्थिति एक बार फिर खराब होती जा रही हैं. बीते एक साल में कोरोना वायरस ने करोड़ो लोगों को अपना शिकार बनाया तो लाखों लोगों को कोरोना के कारण अपनी जान गवांनी पड़ी.

जिसके बाद साल की शुरूआत में कोरोना के मामलों में कमी देखने को मिली थी. लेकिन बीते कुछ दिनों से एक बार फिर देश में कोरोना संक्रमण बढ़ता जा रहा हैं. तो वहीं बीते 24 घंटे में देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के नए मामलों ने बीते सारे रिकॉर्ड तोड़ दिये हैं.

स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के द्वारा जारी आकड़ों के अनुसार बीते दिन राजधानी में कोरोना के 3,594 नए केस दर्ज किए गए. जो कि इस साल अबतक सर्वाधिक हैं. इस दौरान 14 मरीजों की मौत भी हो गई. जिसके बाद वर्तमान में दिल्‍ली के भीतर कोरोना का पॉजिटिविटी रेट 4.54 प्रतिशत हो चुका है. देश में कोरोना हर रोज एक बार फिर तेजी से अपने पैर पसार रहा हैं. जिससे स्थिति एक बार फिर डराने वाली बनती जा रही हैं.

जिसके बाद दिल्ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर चिंता जताई है लेकिन इसके साथ-साथ आगे लॉकडाउन लगाने से भी इनकार कर दिया हैं. वहीं, जेल में बंद कैदियों से उनके घरवालों की ‘मुलाकात’ पर रोक लगा दी गई है. दिल्‍ली यूनिवर्सिटी के सेंट स्‍टीफंस कॉलेज में 17 स्‍टूडेंट्स और स्‍टाफ मेम्‍बर कोविड पॉजिटिव पाए गए हैं. जिसके बाद स्कूल-कॉलेज को लेकर एक बार फिर चर्चा बढ़ गई हैं. कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए तमाम राज्यों ने अपने स्कूल कॉलेज को फिर से बंद करने का आदेश दे दिया हैं.

बता दें कि दिल्‍ली में बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस के 3,594 नए मामले सामने आए जिसके बाद अब राजधानी में कोरोना के कुल मामले 6,68,814 पहुंच गए है. वहीं बीते 24 घंटें में 2,084 लोग ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं. फिलहाल दिल्ली में कोरोना एक्टिव मामले 11,994 है.

loading...
loading...

Check Also

IIT के वैज्ञानिकों ने बताया, कोरोना की दूसरी लहर का पीक कब तक आएगा ?

नई दिल्ली भारत में कोरोना की दूसरी लहर का कहर जारी है। रेकॉर्ड संख्या में ...