Saturday , September 26 2020
Breaking News
Home / क्राइम / कोमा में किम जोन्ग उन, सारी पॉवर अब बहन के पास, क्रूरता में वो सबसे टॉप

कोमा में किम जोन्ग उन, सारी पॉवर अब बहन के पास, क्रूरता में वो सबसे टॉप

नई दिल्ली : उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन का स्वास्थ्य एक बार फिर चर्चा में है। दावा किया गया है कि किम जोंग कोमा में हैं। यहां तक कि एक एक्सपर्ट ने यह भी दावा किया है कि किम जोंग की मौत हो गई है। इसके साथ ही इस बात की संभावना भी जताई गई है कि अब देश की कमान उनकी बहन किम यो जोंग के हाथों में सौंपी जा सकती है। अगर ऐसा हुआ तो यो जोंग दुनिया की पहली महिला तानाशाह होंगी। दरअसल, कुछ दिन पहले ही किम जोंग ने बहन को प्रमोशन दिया था जिसके बाद वह और भी ज्यादा शक्तिशाली हो गई हैं। उन्हें लेकर पहले से यह कहा जाता है कि वह तानाशाह से भी ज्यादा खतरनाक और क्रूर हैं।

‘यो जोंग का आदेश, सम्मान और डर’
अंग्रेजी अखबर मिरर के मुताबिक एक्सपर्ट्स इस बात की चेतावनी देते हैं कि किम यो जोंग बेहद क्रूर हैं। माना जाता है कि यो जोंग इस बात का फैसला करती थीं कि जोंग उन तक कौन से मुद्दे ले जाए जाने के लिए अहम हैं। कहा जाता है कि यो जोंग पार्टी के लोगों को उन्हें सम्मान और डर से पेश आने के लिए कहती थीं। जब उत्‍तर कोरिया के लाइव फायर मिलिट्री अभ्‍यास का दक्षिण कोरिया ने विरोध किया तो किम यो जोंग ने कहा था कि ‘डरे हुए कुत्‍ते भौंक रहे हैं।’

‘दक्षिण कोरिया की धुर विरोधी’
उत्तर कोरिया के बारे में जानकारी रखने वाले कई विशेषज्ञों ने किम यो जोंग को दक्षिण कोरिया का धुर विरोधी बताया है। इतना ही नहीं कहा तो यह भी जा रहा है कि उन्हीं के आदेश पर किम की सेना ने सीमा पर मौजूद सहयोग स्थलों को बम से उड़ा दिया था। किम यो-जोंग पहली बार 2018 में चर्चा में आईं जब उन्होंने दक्षिण कोरिया का दौरा किया। वे किम वंश की पहली ऐसी सदस्य थीं जिन्होंने पहली बार दक्षिण कोरिया की धरती पर कदम रखा था। उन्होंने इस दौरे के बाद दक्षिण कोरिया को लेकर काफी आक्रामक तेवर दिखाए थे।

  • अंग्रेजी अखबर मिरर के मुताबिक एक्सपर्ट्स इस बात की चेतावनी देते हैं कि किम यो जोंग बेहद क्रूर हैं। माना जाता है कि यो जोंग इस बात का फैसला करती थीं कि जोंग उन तक कौन से मुद्दे ले जाए जाने के लिए अहम हैं। कहा जाता है कि यो जोंग पार्टी के लोगों को उन्हें सम्मान और डर से पेश आने के लिए कहती थीं। नॉर्थ कोरिया की मीडिया हमेशा उनका जिक्र करती है क्योंकि वाइस डायरेक्टर का पद भले ही न मिला हो, हैसियत वही है।

  • ऑर्गनाइजेशन ऐंड गाइडेंस डिपार्टमेंट में किम यो जांग के बढ़ते कद ने उन्हें वर्कर्स पार्टी के ब्यूरोक्रैट्स की नजरों में नॉर्थ कोरिया का नंबर 2 बना दिया। OGD में उन्हें अहमियत मिलना इस बात का भी सबूत है कि कई साल से उन्हें इसके लिए तैयार किया जा रहा था कि जोंग उन को कुछ होता है तो यो जोंग उनकी जगह लेने के लिए ढल चुकी हैं।

  • एक्सपर्ट्स के मुताबिक किम यो जोंग ने हमेशा अपने भाई के पीछे रहते हुए अपनी खुद की जगह बनाई है। उन्होंने कभी आगे आकर किसी तरह की प्रतियोगिता को पैदा करने की कोशिश नहीं की। जोंग उन ने भी बहन के कद को समय-समय पर बढ़ाया। शायद यही वजह रही कि किम अहम राजनीतिक और डिप्लोमैटिक मुद्दों पर अपनी राय रखती रहीं।

  • उत्‍तर कोरिया के लाइव फायर मिलिट्री अभ्‍यास का दक्षिण कोरिया ने विरोध किया तो किम यो जोंग ने कहा था कि ‘डरे हुए कुत्‍ते भौंक रहे हैं।’ इससे पहले मार्च महीने में किम यो जोंग ने सार्वजनिक रूप से अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की पत्र भेजने के लिए प्रशंसा की थी। उन्‍होंने आशा जताई थी कि उत्‍तर कोरिया और अमेरिका के बीच संबंध बेहतर होंगे।

  • उत्‍तर कोरियाई मामलों के जानकार लिओनिड पेट्रोव कहते हैं, ‘किम यो जोंग की अपने भाई तक सीधी पहुंच है। यही नहीं उत्‍तर कोरियाई शासक पर उनकी बहन का गहरा प्रभाव है। किम यो जोंग को अपने भाई के बारे में सब पता है। किम यो जोंग अपने भाई की सबसे वफादार हैं और विदेशियों और दक्षिण कोरिया से डील करती हैं। किम यो जोंग अपने भाई की सकारात्‍मक छवि दुनिया में बनाने का काम करती हैं।’

‘भाई की सबसे वफादार’
उत्‍तर कोरियाई मामलों के जानकार लिओनिड पेट्रोव कहते हैं, ‘किम यो जोंग की अपने भाई तक सीधी पहुंच है। यही नहीं उत्‍तर कोरियाई शासक पर उनकी बहन का गहरा प्रभाव है। किम यो जोंग को अपने भाई के बारे में सब पता है। किम यो जोंग अपने भाई की सबसे वफादार हैं और विदेशियों और दक्षिण कोरिया से डील करती हैं। किम यो जोंग अपने भाई की सकारात्‍मक छवि दुनिया में बनाने का काम करती हैं।’

किम जोंग उन कोमा में या हुई मौत?
कुछ दिन पहले दक्षिण कोरिया की खुफिया एजेंसी ने बताया था कि 32 साल की किम यो जोंग को अमेरिका और दक्षिण कोरिया से जुड़े मामलों को देखने के लिए उत्‍तर कोरिया का प्रभारी बनाया गया है। इस तरह से वह अब देश में अघोषित रूप से दूसरे नंबर की नेता हो गईं। इसके बाद दक्षिण कोरिया के पूर्व राष्ट्रपति किम डे-जंग के ऑफिसर रह चुके चान्ग सॉन्ग-मिन ने दावा किया कि किम जोंग उन कोमा में हैं। यही नहीं, पत्रकार रॉय कैली ने यहां तक कहा कि उन्हें लगता है कि किम की मौत हो चुकी है।

Check Also

बड़ा खुलासा : दीपिका पादुकोण थीं Drugs Chat चैट वाले Whatsapp ग्रुप की एडमिन, ये दोनों भी उसकी मेंबर

नारकोटिक्‍स ब्‍यूरो जहां एक ओर शुक्रवार को रकुलप्रीत सिंह और करिश्‍मा प्रकाश से पूछताछ कर ...