Thursday , July 16 2020
Breaking News
Home / ख़बर / कोरोना की मुट्ठी में महाराष्ट्र, हर घंटे 10 लोगों की गई जान, अब दुआओं से ही आस !

कोरोना की मुट्ठी में महाराष्ट्र, हर घंटे 10 लोगों की गई जान, अब दुआओं से ही आस !

महाराष्ट्र में रोज लगभग पांच हजार नए कोरोना संक्रमित मिल रहे हैं। पिछले 24 घंटे के दौरान राज्य में 4878 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इसे लेकर कुल संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 1 लाख 74 हजार 761 पहुंच गया है। पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में 245 लोगों की मौत हुई है। अब तक कुल 7855 लोग अपनी जान कोरोना के चलते गंवा चुके हैं। महाराष्ट्र में आज 1951 कोरोना संक्रमित ठीक होकर घर भी गए हैं। इसी के साथ कुल ठीक होने वाले मरीजों की संख्या बढ़कर 90911 तक पहुंच गई है।

पाबंदियों में बिना छूट के राज्य में 31 जुलाई तक बढ़ा लॉकडाउन 
महाराष्ट्र में लॉकडाउन की मियाद 31 जुलाई तक बढ़ा दी गई है। सोमवार को जारी राज्य सरकार के नोटिफिकेशन में नियमों और पाबंदियों में फिलहाल कोई छूट नहीं दी गई है। मिशन बिगिन अगेन के तहत राज्य सरकार के सभी विभागों को पहले जारी की गई गाइडलाइंस का सख्ती से पालने करने के निर्देश दिए गए हैं। अनलॉक-1 में दी गई रियायतें जारी रहेंगी। सरकार सैलून, ब्यूटी पार्लर और स्पा को शर्तों के साथ खोलने की इजाजत पहले ही दे चुकी है।

सबसे बड़ी प्लाज्मा थेरेपी का ट्रायल शुरू हुआ
दुनिया के सबसे बड़े प्लाजमा थेरेपी का ट्रायल महाराष्ट्र में शुरू हो गया है। इसका उद्देश्य मुंबई के 4 अस्पतालों समेत महाराष्ट्र के 21 मेडिकल कॉलेजों में कोरोना के 500 मरीजों की जान बचाना है। सीएम उद्धव ठाकरे ने सोमवार को ‘प्लेटिना’ नाम के इस प्रॉजेक्ट का वर्चुअल उद्‌घाटन किया। इन सभी को 200 मिली प्लाज्मा की दो डोज दी जाएगी।

फर्जी खबरें फैलाने वाले 510 लोगों पर केस दर्ज 
लॉकडाउन के दौरान सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर फर्जी खबर प्रसारित करने एवं अफवाह फैलाने के मामले में महाराष्ट्र साइबर विभाग ने 500 से अधिक लोगों पर केस दर्ज किये हैं। इस संबंध में अब तक 265 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। सोमवार तक लगभग 510 मामले दर्ज किये गये हैं। उन पर सोशलमीडिया मंच जैसे टिक टॉक, व्हाट्सएप, फेसबुक, ट्विटर एवं इंस्टाग्राम पर लॉकडाउन के दौरान फर्जी समाचार एवं गलत सूचना प्रसारित करने तथा अफवाह फैलाने का आरोप है।

Check Also

कोरोना: हॉस्पिटल ने मरीज़ का माफ किया ₹1.52 करोड़ का बिल, वजह भी जान लीजिये

कोरोना वायरस की वजह से बहुत से लोग अस्पतालों में भर्ती हैं। सरकारी अस्पताल में ...