Sunday , September 27 2020
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / कोरोना को जल्द Get Out कर देगा देश, सबूत हैं ये 5 Good News !

कोरोना को जल्द Get Out कर देगा देश, सबूत हैं ये 5 Good News !

भारत में कोरोना वायरस मामलों (Coronavirus cases in India) की संख्‍या 27 लाख से ज्‍यादा हो गई है। पिछले 24 घंटों में 55 हजार से ज्‍यादा नए केस सामने आए जबकि 57 हजार से ज्‍यादा मरीज ठीक होकर घर चले गए। इस दौरान 876 मरीजों की मौत के साथ टोटल मौतों का आंकड़ा बढ़कर 51,797 हो गया है। एक तरफ जहां ये आंकड़े महामारी की भयावहता जाहिर करते हैं, वहीं तस्‍वीर का दूसरा पहलू भी है। भारत में टेस्टिंग और आइसोलेशन की दिशा में जिस तेजी से काम हुआ है, उसका नतीजा बढ़ते रिकवरी रेट और कम होते डेथ रेट पर साफ देखा जा सकता है। ऐक्टिव मामलों और रिकवर्ड मामलों के बीच का अंतर करीब 13 लाख का है।

देश के 30 राज्‍यों की हालत में सुधार

भारत के 30 राज्‍य/केंद्रशासित प्रदेश ऐसे हैं जो नैशनल एवरेज से बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार, केसेज का जल्‍द पता लगने, टाइम से उन्‍हें आइसोलेट करने, प्रभावी क्लिनिकल ट्रीटमेंट से केस फैटलिटी रेट कम हुआ है। भारत में कोरोना से मृत्‍यु दर 1.92 प्रतिशत है और वह दुनिया के सबसे कम डेथ रेट वाले देशों में शामिल है।

रिकवरी रेट अब 73% के पार

देश में कोरोना से ठीक हो चुके लोगों की संख्‍या 19,77,779 हो गई है। यानी कुल मामलों में से 73.18% मरीज रिकवर हो चुके हैं। महाराष्‍ट्र, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक वे राज्‍य हैं जहां का रिकवरी रेट अभी बाकी जगह से कम है। दिल्‍ली का रिकवरी रेट सबसे बेहतर है।

टेस्टिंग का बना नया रेकॉर्ड

भारत ने पिछले 24 घंटों में रेकॉर्ड 8.97 लाख टेस्‍ट्स किए है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार, देश में कोविड टेस्टिंग लैब्‍स की संख्‍या बढ़कर 1,476 हो गई है। इनमें से 971 सरकारी लैब्‍स हैं जबकि 505 प्राइवेट लैब्‍स हैं। देश में अबतक कोरोना के 3,0941,264 टेस्‍ट हो चुके हैं।

पॉजिटिविटी रेट बना हुआ है स्थिर

रेकॉर्ड संख्‍या में टेस्टिंग के बावजूद भारत में कोविड का पॉजिटिविटी रेट स्‍टेबल है। पिछले 24 घंटों में यह 8.81% रहा है जबकि साप्‍ताहिक नैशनल एवरेज 8.84% रहा है। पिछले 15 दिन से पॉजिटिविटी रेट 9% से नीचे बना हुआ है। नए मामलों को लेकर ग्रोथ फैक्टर ( रोजाना संक्रमण के मामले / पिछले दिन संक्रमण के मामले) भी एक पर्सेंट पर बना हुआ है।

कोरोना का म्‍यूटेशन अच्‍छी खबर: एक्‍सपर्ट

एशिया के कुछ हिस्‍सों में तेजी से बढ़ रहा कोरोना वायरस का एक म्‍यूटेशन अव्‍छी खबर साबित हो सकता है। एक्‍सपर्ट्स ने कहा है कि यह संक्रामक भले ही ज्‍यादा हो, लेकिन जानलेवा कम है। D614G म्‍यूटेशन को सामान्‍य कोरेाना वायरस से 10 गुना ज्‍यादा संक्रामक बताया जा रहा है। मगर इसके फैलने के साथ ही दुनियाभर में डेथ रेट में कमी आई है। मलेशिया में जिस शख्‍स से यह म्‍यूटेटेड वायरस फैला, वह भारत से ही गया था।

Check Also

‘ड्रग्स चैट्स’ पर दीपिका का बड़ा ‘कबूलनामा’, मैनेजर करिश्मा बोली- ‘हैश कोई ड्रग नहीं’

ड्रग चैट केस में दीपिका पादुकोण और उनकी मैनेजर करिश्मा प्रकाश से एनसीबी की टीम पूछताछ कर रही है। ...