Tuesday , September 29 2020
Breaking News
Home / जरा हटके / कोरोना से जंग: बिहार से आई बहुत बड़ी गुड न्यूज, जानकर आप भी हो जाएंगे खुश

कोरोना से जंग: बिहार से आई बहुत बड़ी गुड न्यूज, जानकर आप भी हो जाएंगे खुश

पटना
बिहार में कोरोना वायरस (Coronavirus Cases in Bihar) के मामले थमने का नाम ले रहे हैं। आंकड़ा 1.20 लाख के करीब पहुंच गया है। हालांकि, कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफे के बीच राहत की बात ये है कि राज्य में मरीजों के ठीक होने की दर (रिकवरी रेट) भी लगातार बढ़ रही है। स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि इस महीने में रिकवरी रेट में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। बिहार में रिकवरी रेट 78 फीसदी तक पहुंच गई है, जो कि पिछले दो महीनों में उच्चतम स्तर पर है। बिहार में रिकवरी रेट राष्ट्रीय औसत 73.9 फीसदी से 4 फीसदी अधिक है।

बिहार में रिकवरी रेट 78 फीसदी तक पहुंचा
बिहार में एक अगस्त को कोरोना वायरस मरीजों का रिकवरी रेट जहां 65.08 फीसदी था, वहीं 21 अगस्त को यह बढ़कर 78.05 फीसदी हो गया है। इस तरह इसमें करीब 13 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। यह राष्ट्रीय औसत से अधिक बताया जा रहा है। विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, 15 अगस्त को राज्य में कोरोना संक्रमितों का रिकवरी रेट 67.39 फीसदी था, जबकि 17 अगस्त को यह बढ़कर 71.94 फीसदी और 19 अगस्त को करीब 75 प्रतिशत तक जा पहुंचा।
 
राष्ट्रीय स्तर से 4 फीसदी ज्यादा है रिकवरी रेट
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ शुक्रवार को हुई बैठक में स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने भी कहा कि सात अगस्त तक कोरोना के 8 लाख 70 हजार 852 नमूनों की जांच हुई थी, जो आज की तारीख में बढ़कर 22 लाख 28 हजार 516 तक पहुंच गई है। उन्होंने बताया कि इस अवधि में राज्य का रिकवरी रेट 64.44 फीसदी से बढ़कर अब 78.05 फीसदी हो गया है। ये राष्ट्रीय औसत 74.30 फीसदी से लगभग 4 फीसदी अधिक है।

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने बताया कि राज्य के 13 जिलों में 10 फीसदी से ज्यादा ‘पॉजिटिव अनुपात’ है। इसे नियंत्रित करने के लिए प्रभावी रूप से कार्य किए जा रहे हैं। आरटीपीसीआर, ट्रूनेट और रैपिड एंटीजन टेस्ट को मिलाकर प्रतिदिन 1 लाख 15 हजार से अधिक नमूनों की जांच की जा रही है। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को आरटीपीसीआर जांच की संख्या और बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि कोरोना एक्टिव के ज्यादा मरीज वाले जिलों में जांच की संख्या और बढ़ाने की जरूरत है।

loading...
loading...

Check Also

पीएम मोदी ने चीन पर साधा निशाना, लेकिन नाम इस बार भी नहीं लिया !

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (COVID-19) ने दिखाया है कि किसी एक स्रोत पर वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला ...