Monday , November 30 2020
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / लॉकडाउन में रोजी-रोटी खोने वाले लोगों के लिए खुशखबरी, सबको रोजगार देगी सरकार

लॉकडाउन में रोजी-रोटी खोने वाले लोगों के लिए खुशखबरी, सबको रोजगार देगी सरकार

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के चलते देश में हुए लॉकडाउन (Lockdown) से लाखों लोग बेरोजगार हो गए थे। सबसे ज्यादा दिक्कत प्रवासी मजदूरों और रोजाना कमाने-खाने वालों को हुआ था। धीरे-धीरे अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के मकसद से ऐसे ही लोगों को नौकरी (Employment) देने का प्लान बनाया है। इसके लिए आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना (Atmanirbhar Bharat Rojgaar Yojana) चलाई जा रही है। इसमें 15,000 रुपए से कम सैलरी वालों या 1 मार्च 2020 से लेकर 31 सितंबर 2020 के बीच नौकरी गंवाने वाले लोगों को इसका फायदा मिलेगा। इतना ही नहीं रोजगार मुहैया कराने के लिए जल्द ही एक पोर्टल भी बनाया जाएगा।

राहत पैकेज 3 के तहत वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि सरकार पलायन करने वाले मजदूरों के लिए खास तरह का पोर्टल लेकर आने वाली है। इसका मकसद नए रोजगार को प्रोत्साहन देना है। इसके तहत ऐसी कंपनियां लोगों को रोजगार दे रही हैं जो पहले से EPFO में कवर नहीं थीं। मगर अब इस स्कीम के बाद से ऐसी कंपनियों और कामगारों दोनों को इसका फायदा मिलेगा। नए पैकेज के तहत सरकार प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना को विस्तार दे सकती है। साथ ही नए कर्मचारियों और कंपनियों को PF कॉन्ट्रिब्यूशन पर 10 फीसदी सब्सिडी देने पर भी विचार किया जा रहा है।

संगठित क्षेत्र के लोगों को फायदा
आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना से देश में तेजी से नौकरियों के अवसर बढ़ेंगे। इससे देश के असंगठित क्षेत्र को भी संगठित करने पर काम होगा। जिससे संगठित क्षेत्र का विस्तार होगा। रजिस्टर्ड ईपीएफओ प्रतिष्ठान से जुड़ने वाले कर्मचारी इसका लाभ ले सकेंगे।

सरकार देगी सब्सिडी
अर्थव्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए सरकार अगले दो साल तक ऐसी कंपनियों को सब्सिडी देगी जिस संस्था में 1000 तक कर्मचारी हैं। ऐसे में 12 फीसदी कर्मचारी और 12 फीसदी नियोक्ता हिस्सा केंद्र देगी। इस योजना में लगभग 65 फीसदी संस्थाएं कवर हो जाएंगी।

loading...
loading...

Check Also

सबसे बड़े एक्सपर्ट बोले- कोरोना वैक्सीन आने के बाद भी नहीं उतरेंगे मास्क!

कोरोना वायरस महामारी की शुरूआत से पहले खुला घूमने के आदी लोगों को अब फेस ...