Saturday , October 24 2020
Breaking News
Home / सेहत / गले का कैंसर होने से पहले मिलते हैं ये 6 संकेत, वक्त पर की पहचान तो बच जाएगी जान

गले का कैंसर होने से पहले मिलते हैं ये 6 संकेत, वक्त पर की पहचान तो बच जाएगी जान

कैंसर एक ऐसी बीमारी है जिस व्यक्ति को हो जाती है उसका शरीर का पूरा सत निकल जाता है. सबसे बड़ी बात ये है कि इस बीमारी के बारे में या तो शुरुआत में पता लगता है या फिर बिलकुल अंत में. कैंसर कई तरह के होते है. उन्हीं में से एक कैंसर है गले का. गले के कैंसर के लक्षण को अक्सर नजरंदाज किया जाता है. जब तक रोगी को गले के कैंसर का पता लगता है तब तक स्थिति गम्भीर हो चुकी होती है.

आपके स्वास्थ्य का ख्याल रखते हुए आज हम आपको बताने जा रहे है लें के कैंसर के शुरूआती लक्षणों को बारें मे. इन संकेतों को जानकर आपको प्रारम्भिक अवस्था में ही इस गम्भीर बीमारी के संकेत आसानी से समझ आ जायेंगे.

गले के कैंसर का सबसे बड़ा और पहला संकेत है कुछ भी निगलने में तकलीफ होना. ये समस्या होने पर आमतौर पर लोग नर्म खाना खाना शुरू कर देते है. खुद से ही कुछ भी शुरू कर देना सही नहीं है. ऐसी कोई समस्या होने पर डॉक्टर से जरूर संपर्क करें.

जिन रोगियों को गले का कैंसर होता है उनका लम्बे समय तक गला बैठ जाता है, आवाज़ में बदलाव आने लगता है.

गले के कैंसर का प्रारम्भिक लक्षण हैं लम्बे समय तक गलें, कान और सिर में दर्द रहना.

ज्यादा देर तक कफ बना रहने पर या खांसने पर खून आने पर तुरंत डॉ से संपर्क करें.

गले के कैंसर का संकेत लगातार खांसी आना और साथ ही बलगम के साथ रक्त भी आना.

तेजी से वजन कम होना थॉयरायड का लक्षण है और अगर थॉयरायड का उपचार सही न हों तो ये गले के कैंसर में बदल सकता है.

अगर आपके परिवार के किसी सदस्य को इस तरह की समस्या दो से तीन हफ़्तों से ज्यादा से हो रही है तो तुरंत उसकी जाँच करायें.

loading...
loading...

Check Also

अगर आपकी भी हड्डियों से आती हैं ऐसी आवाजें, तो ये खबर अभी पढ़ें !

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में हर कोई चाहता है वह चुस्त-दुरुस्त रहें लेकिन अफसोस ...