Sunday , September 27 2020
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / गिरफ्त में विधायक : विजय मिश्रा के बाहुबली बनने का पूरी कहानी, तीन दशक पहले ऐसे शुरु की थी राजनीति

गिरफ्त में विधायक : विजय मिश्रा के बाहुबली बनने का पूरी कहानी, तीन दशक पहले ऐसे शुरु की थी राजनीति

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के भदोही से विधायक विजय मिश्रा ( Bhadohi MLA Vijay Mishra ) ब्राहृाण-ठाकुर राजनीति को लेकर इन दिनों खासी चर्चा में हैं। विधायक विजय मिश्रा ( MLA Vijay Mishra ) ने योगी सरकार ( Yogi Sarkar ) पर ब्राहृाण विरोधी ( Anti Brahmin ) होने का आरोप लगाया है। इसके साथ ही उन्होंने और उनके परिवार ने सरकार से अपनी जान का खतरा बताया है। विधायक विजय मिश्रा को मध्यप्रदेश के आगर मालवा जिले की पुलिस ने पूछताछ के लिए रोका है। यूपी पुलिस को मिश्रा की तलाश है।

पुलिस जानकारी के अनुसार विजय मिश्रा के खिलाफ कई थानों में दर्जनों मामले दर्ज हैं और वहां की पुलिस लगातार उनकी तलाश में थी। विजय मिश्रा को उस से गिरफ्तार किया गया जब वह जब शुक्रवार को कार से आगर मालवा जिले से गुजर रहे थे।

विजय मिश्रा का सियासी सफर——

  • विजय मिश्रा ने अपने सियासी सफर की शुरुआत तीन दशक पहले कांग्रेस ब्लॉक प्रमुख के रूप में की
  • इसके बाद वह 2002, 2007 और 2012 में ज्ञानपुर सीट से समाजवादी पार्टी के टिकट पर विधानसभा का चुनाव जीते
  • एक रिपोर्ट के अनुसार अखिलेश यादव ने उनकी बाहुबली वाली छवि के चलते 2017 के उनका टिकट काट दिया
  • सपा से टिकट कटने के बाद विजय ने निषाद पार्टी से चुनाव लड़ा और मोदी लहर में भी विजयी हुए
  • फिलहाल विजय मिश्रा भारतीय जनता पार्टी के सदस्य हैं

राजनीतिक छवि—
दरअसल, विजय मिश्रा एक कट्टर ब्राम्हण वादी छवि के नेता हैं। उनको उत्तर प्रदेश के सबसे बड़े ब्राम्हण बाहुबली नेता के तौर पर जाना जाता है। मध्यप्रदेश के रीवा में भी विजय मिश्रा के नाम का डंका बजता है।

Check Also

1 अक्टूबर से नए नियम : ड्राइविंग करते हुए यूज कर सकते हैं मोबाइल, लेकिन सिर्फ एक काम के लिए

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि ड्राइविंग करते समय मोबाइल या ...