Wednesday , November 25 2020
Breaking News
Home / क्राइम / गुड़गांव: गैंगस्टर के घर के बाहर खड़ी की कार, वो 50 शूटरों संग कर दिया गोलियों की बरसात

गुड़गांव: गैंगस्टर के घर के बाहर खड़ी की कार, वो 50 शूटरों संग कर दिया गोलियों की बरसात

गुड़गांव
गैंगस्टर के घर के बाहर गाड़ी खड़ी करना पड़ोस के 3 युवकों को इस कदर भारी पड़ा कि उनपर व उनके परिवार पर 30 से अधिक गोलियां बरसा दी गईं। साथ ही उनसे मारपीट भी की गई। घटना सेक्टर-10 थाने के गांव बामडोली में रविवार रात की है। आरोप आकाश उर्फ आशू व उसके शूटरों पर है। दोनों पक्षों के घरों के बीच करीब 20 कदम की दूरी है, लेकिन इन 20 कदम के फासले में 20 से अधिक जगह खून के निशान पड़े मिले। कुल 4 घायलों को गंभीर हालत में निजी हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है। दो युवक फिलहाल आईसीयू में हैं।

वारदात रविवार देर रात करीब 10 बजे की है। पुलिस के अनुसार, यह शिकायत गांव बामडोली निवासी जोगेंद्र यादव ने दी है। रविवार रात उनके छोटे भाई विजेंद्र अपने चचेरे भाई सुमित के साथ परचून की दुकान से वापस लौट रहे थे। वे घर से कुछ दूरी पर अपने ही परिवार के कार सवार युवक को मिल गए और बातचीत करने उनकी कार में बैठ गए। यह कार गांव के ही गैंगस्टर आकाश उर्फ आशू के घर के बाहर खड़ी थी। तभी आशू के 5-7 शूटर आए और कार खड़ी करने पर विरोध जताया। पीड़ित युवकों ने कहा कि हम तो गांव के ही हैं। इसी पर आरोपितों ने हमला कर दिया और पीटने लगे। करीब 20 कदम दूर स्थित घर से मारपीट का शोर सुनकर पीड़ित के परिवार के लोग आए और बीच-बचाव किया। इसके बाद सभी अपने-अपने घर चले गए।

50 शूटरों के साथ घर पर किया हमला
लेकिन करीब 20 मिनट बाद ही गैंगस्टर अपने पिता आजाद, भाई सनी व करीब 50 शूटरों के साथ दूसरे पक्ष के घर पहुंचा। वहां जाते ही घर के पास ही बैठक में मौजूद 2 सगे भाईयों व शिकायतकर्ता के चाचा सनेश व शमशेर पर लाठी-डंडों से जानलेवा हमला कर दिया। पीड़ित पक्ष के युवक भी आए और उन्होंने भी लाठी-डंडों से अपने चाचा को बचाने का प्रयास किया। लेकिन तभी आकाश, उसका भाई सनी व एक अन्य बदमाश पिस्टल निकाल गोली चलाने लगे। करीब 30 गोलियां आरोपितों ने मौके पर चलाईं। गोलियां चलते ही पीड़ित पक्ष जान बचाकर भागने लगे, लेकिन मनोज को गोली लगने से वो वहीं गिर गया, जबकि सनेश व शमशेर को भी आरोपितों ने घेर लिया और लाठी-डंडों से बुरी तरह पीटते रहे। फिर किसी तरह तीनों घायलों को बचाकर लाया गया। एक अन्य प्रवीन को भी इलाज के लिए हॉस्पिटल ले जाया गया।

पीड़ित पक्ष का एक युवक अपनी कार से घायलों को हॉस्पिटल ले जाने लगा। लेकिन आरोपियों ने एसयूवी के आगे स्कूटी गिरा रुकवा लिया और कार में लाठी-डंडों से वार करते हुए गोलियां मारी, लेकिन चालक समझदारी दिखाते ही एसयूवी को भगा ले गया। मनोज को सीधे मेदांता ले जाया गया। सनेश, शमशेर व प्रवीण को मानेसर के रॉकलैंड हॉस्पिटल ले जाया गया। जहां से गंभीर हालत को देखते हुए सनेश व शमशेर को आर्टिमिस हॉस्पिटल रेफर कर दिया गया।

वहीं, वारदात की सूचना मिलते ही सेक्टर-10 थाना एसएचओ इंस्पेक्टर संजय, सेक्टर-10 क्राइम ब्रांच इंचार्ज एसआई दलपत, एसीपी सिटी राजेंद्र दलाल, डीसीपी वेस्ट दीपक सहारण समेत अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। पुलिस ने आस-पास के कई मकानों से सीसीटीवी कैमरों की फुटेज हासिल की। साथ ही शिकायत पर गैंगस्टर, उसके भाई, पिता व करीब 50 साथियों पर हत्या के प्रयास, आर्म्स एक्ट, मारपीट, धमकी देने के आरोप में एफआईआर दर्ज की है।

देर रात से ही गांव में भारी पुलिस बल
वारदात की सूचना मिलते ही देर रात करीब साढ़े 10 बजे गांव में पुलिस टीम तैनात कर दी गई। दोनों पक्षों के घर के आस-पास रातभर पुलिस की 2 गाड़ी में 10 से अधिक जवान तैनात रहे। सुबह फिर से अन्य टीमें तनाव को देखते हुए गांव में भेज दी गईं। एसीपी सिटी राजेंद्र दलाल सोमवार सुबह फिर से गांव में पहुंचे। 30 से अधिक पुलिसकर्मियों को गांव में तैनात किया गया है।

loading...
loading...

Check Also

बच्चों के नाम पर जरूर खोलें ₹150 से ये सरकारी खाता, पढ़ाई के लिए 19 लाख रुपए मिलेंगे

बच्चों की पढ़ाई अच्छे से हो और भविष्य में वो एक काबिल इंसान बन सके ...