Saturday , October 24 2020
Breaking News
Home / जरा हटके / चार दिन में सबसे सस्ता हुआ सोना, दशहरा बाद फिर जाएगा ऊपर, खरीदने का यही है सही वक्त

चार दिन में सबसे सस्ता हुआ सोना, दशहरा बाद फिर जाएगा ऊपर, खरीदने का यही है सही वक्त

जबलपुर। सोने के भाव में पिछले एक सप्ताह में स्थिरता देखी जा रही है। सोना सस्ता होने से खरीददारी बढ़ गई है। नवरात्रि के पहले दिन सोने चांदी के गहनों की खरीदी करने के लिए बहुत से लोगों ने प्री बुकिंग कर रखी थी। जिसकी डिलेवरी लेने आज सोने चांदी की दुकानों में भीड़ देखी जा रही है। वहीं सराफा व्यापारियों को इस नवरात्रि में अच्छे व्यापार की उम्मीद दिखाई दे रही है। चार दिन में सोना करीब 1600 रुपए तक नीचे आ गया है। वहीं चांदी 1500 रुपए तक नीचे आ गई है। त्योहारी सीजन के साथ साथ लोग शादी की खरीददारी भी कर रहे हैं। एक्सपर्ट के अनुसार दोनों धातुओं भाव नीचे आने से पूरे नवरात्रि में सराफा बाजार अच्छा चलने की संभावना है।

14 अक्टूबर 2020 के भाव

सोना निचले स्तर पर
अक्षत भूरा ज्वेलर्स के संचालक आभास भूरा ने बताया कि नवरात्रि के पहले दिन लोग शुभ मुहूर्त में खरीदी करने पहुंच रहे हैं। कई लोगों ने प्री बुकिंग करा ली थी, जिसकी डिलेवरी आज की गई। शनिवार को सोने की ज्वेलरी 22 कैरेट 50100 और स्टैंडर्ड सोना 50800 के साथ अब तक के सबसे निचले स्तर पर रहा है। आभाष भूरा के अनुसार सोने के दाम अभी स्थिर रहने की संभावना है, 400 से 500 का उतार हो सकता है। त्यौहारी सीजन में जैसे जैसे खरीदी बढ़ेगी भाव चढऩे की संभावना ज्यादा है। इसी वजह से लोग अभी से खरीदी शुरू हो गई है। पहले दिन अच्छा रिस्पॉंस मिल रहा है।

चांदी की चमक बरकरार
एक हफ्ते में लगातार दाम गिरने के बाद चांदी दो दिन से स्थिर बनी हुई है। शनिवार को चांदी 62000 और ज्वेलरी 61000 पर बिक रही है। चांदी व्यापारी अजय बख्तावर ने बताया कि त्योहारी सीजन में अब चांदी के भाव गिरने की उम्मीद अब बहुत कम बची है। पूरे नवरात्रि में 60 और 62 हजार के बीच दाम बने रहने की संभावना है। हालांकि दिवाली के पहले बाजार उठने की उम्मीद है। जिसमें दाम फिर बढ़ सकते हैं। इसी वजह से लोग अभी नवरात्रि में ही खरीदी करने पहुंच रहे हैं।

loading...
loading...

Check Also

इस बड़े शहर में आलूबंडा-चूना हुआ बैन, जानिए आखिर क्या है माजरा ?

क्या आपने कभी सुना है, कि शहर की शांति के लिए आलूबंडा और चूना को ...