Thursday , September 24 2020
Breaking News
Home / ख़बर / छत्तीसगढ़ में कोरोना का कत्लेआम जारी, 2 महीने पहले दूल्हा बने डॉक्टर भी हुए शहीद

छत्तीसगढ़ में कोरोना का कत्लेआम जारी, 2 महीने पहले दूल्हा बने डॉक्टर भी हुए शहीद

रायपुर. बीजापुर जिला अस्पताल में पदस्थ डॉ. योगेश गबेल की कोरोना से मौत हुई है। प्रदेश में अब तक कोरोना से दो डॉक्टरों की मौत हो चुकी है। इससे पहले धमतरी में पदस्थ एमडी मेडिसिन डॉ. रमेश ठाकुर की २२ अगस्त को मौत हुई थी। बीजापुर के सीएमएचओ डॉ. बीआर पुजारी ने मौत की पुष्टि करते हुए बताया कि डॉक्टर रायगढ़ जिले के खरसिया के रहने वाले थे और साल 2016 से बीजापुर में अपनी सेवाएं दे रहे थे।

जून में उनका विवाह हुआ था और कोरोना की वजह से बीजापुर में अकेले रहकर ही ड्यूटी कर रहे थे। उनके शव को पूरी एहतियात के साथ उनके गृह ग्राम प्रशासनिक टीम के साथ भिजवा दिया गया है। कोरोना संक्रमित होने की वजह से डॉक्टर होम आइसोलेशन में थे। मंगलवार देर शाम शासकीय आवास में उनका शव मिला था। मौत के बाद की गई जांच में उनकी रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। हालांकि, स्वास्थ्य विभाग की जारी रिपोर्ट में डॉक्टर के मरने का कोई उल्लेख नही किया गया है। बुधवार को प्रदेश में 8 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है।

इधर, प्रदेश में लगातार तीसरे दिन 1000 से ज्यादा कोरोना संक्रमित मिले हैं। रायपुर में 514 समेत प्रदेश में 1045 नए मरीज मिले हैं। इसमें हाइकोर्ट जस्टिस सावंत, कलेक्टर बिलासपुर डॉ.बी. सारांश मित्तर, कांगे्रस नेता विनोद तिवारी आदि शामिल हैं। वहीं, सीपत थाना प्रभारी के कोविड संक्रमित पाए जाने के बाद थाने को सील कर दिया गया है। मस्तूरी थाने से काम किया जाएगा।

तीन दिन पहले ही कलेक्टर सारांश की रिपोर्ट नेगेटिव आई थी लेकिन मंगलवार शाम जब वे घर पहुंचे तो उन्हें बुखार था। उन्होंने पहले एंटीजन टेस्ट कराया, जिसमें पॉजीटिव पाए गए। आरटी-पीसीआर टेस्ट कराने पर भी उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इनका होम आइसलेशन में इलाज किया जा रहा है।

होम आइसोलेशन की अनुमति के लिए संख्या-सीमा की बंदिश खत्म

स्वास्थ्य विभाग ने कलेक्टरों द्वारा होम आइसोलेशन के लिए अनुमति देने प्रत्येक जिले के लिए निर्धारित मरीजों की संख्या की सीमा हटा दी है। अब कलेक्टर होम आइसोलेशन के लिए उपयुक्त पाए जाने वाले कोविड-19 के लक्षणरहित मरीजों को संख्या-सीमा की बाध्यता के बिना इसकी अनुमति दे सकेंगे।

स्वास्थ्य विभाग की सचिव निहारिका बारिक सिंह ने सभी कलेक्टरों को परिपत्र जारी कर नए दिशा-निर्देशों के अनुरूप होम आइसोलेशन की अनुमति देने कहा है। उल्लेखनीय है कि स्वास्थ्य विभाग ने कोविड-19 के बिना लक्षण वाले मरीजों को होम आइसोलेशन में इलाज और प्रबंधन के लिए सभी जिलों को विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए थे। सभी जिलों को एक निर्धारित संख्या में ही होम आइसोलेशन की अनुमति देने कहा गया था।

प्रदेश में अब तक

कुल संक्रमित-24386

एक्टिव-10012
डिस्चार्ज-14145

मौत-229

26 को मिले मरीज

रायपुर-514

दुर्ग-112
रायगढ़-70

राजनांदगांव-46
महासमुंद-36

बीजापुर-28
बिलासपुर-24

बस्तर-23
नारायणपुर-21

बेमेतरा-20
सरगुजा-20

धमतरी-18
कांकेर-14

बालोद-13
बलौदबाजार-13

जांजगीर-चांपा-12
मुंगेली-12

सूरजपुर-11
कबीरधाम-09

कोंडगांव-07
सुकमा-07

दंतेवाड़ा-06
बलरामपुर-03

गौरेला-पेंड्रा-मरवाही-01
जशपुर-01

बुधवार को इनकी हुई मौत

रायपुर- अभनपुर निवासी 28 वर्षीय पुरुष, रायपुर निवासी 72 वर्षीय पुरुष, रामनगर निवासी 61 वर्षीय पुरुष। दुर्ग- नयापारा निवासी 65 वर्षीय महिला, पंजाबी मोहल्ला भिलाई निवासी 65 वर्षीय पुरुष। बेमेतरा- पंजाबीपारा निवासी 50वर्षीय पुरुष। कवर्धा- दोरगांव निवासी 61 वर्षीय पुरुष। बीजापुर- स्कूलपारा निवासी 56 वर्षीय पुरुष।

Check Also

मौत को हराने वाला है हरियाणा, लगातार दूसरे दिन आई अच्छी खबर, सुकून की सांस देगा ये आंकड़ा

हरियाणा : प्रदेश में लगातार दूसरे दिन कोरोना के नए केस 2 हजार से कम ...