Thursday , March 4 2021
Breaking News
Home / अपराध / जेल से छूटने के बाद भी नहीं सुधारा शोहदा, जबरन छात्रा की मांग में डाला सिंदूर

जेल से छूटने के बाद भी नहीं सुधारा शोहदा, जबरन छात्रा की मांग में डाला सिंदूर

वाराणसी. उत्तर प्रदेश के वाराणसी जिले में एक आरोपी ने जेल से छूटने के बाद एक छात्रा की मांग में सिंदूर भर दिया। आरोपी युवक की हरकत से सकते में आई छात्रा ने अपने परिवार को जानकारी दी। परिजनों ने पुलिस में तहरीर दी। पुलिस ने आरोपी युवक की हिस्ट्री चेक की तो कई अन्य मुकदमे उसके नाम पर सामने आए। दरअसल, लक्सा थाने का हिस्ट्रीशीटर जद्दूमंडी निवासी सोनू प्रजापति मनबढ़ किस्म का शोहदा है। उसके खिलाफ कई मुकदमे दर्ज हैं। सोनू के खिलाफ वर्ष 2018 में पहला मुकदमा लक्सा थाने में अश्लील आचरण के आरोप में दर्ज किया गया। उसकी करतूतों के कारण ही फिर उसके खिलाफ मिनी गुंडा एक्ट की कार्रवाई की गई। इसके बाद भी उसमें कोई सुधार नहीं आया।

जिस छात्रा की मांग में बृहस्पतिवार को जबरन सिंदूर डाला, उसी से छेड़खानी के आरोप में उसके खिलाफ लक्सा थाने में मुकदमा दर्ज हुआ। जमानत पर छूटने के बाद भी सोनू की हरकतों में सुधार नहीं आया। उसके खिलाफ फिर पुलिस ने गुंडा एक्ट और मिनी गुंडा एक्ट की कार्रवाई की। उधर, पीड़िता छात्रा की मां ने लक्सा थाने में कहा कि मनबढ़ सोनू की करतूतों से हम सभी उससे दूर भागते हैं, इसके बावजूद वह हमारी बच्ची के पीछे हाथ धोकर पड़ा हुआ है। उन्होंने कहा कि सोनू की हरकत से उनका परिवार किसी को मुंह दिखाने लायक नहीं रहा। पीड़ित छात्रा की मां ने सवाल किया कि क्या वह इतना ताकतवर है कि उसके अंदर कानून का थोड़ा सा भी भय नहीं है? ऐसे ही चलेगा तो सामान्य परिवार के लोग अपनी बहन-बेटियों की रक्षा भला कैसे करेंगे।

अश्लील आचरण, छेड़खानी और धमकाने के आरोप

लक्सा थाना प्रभारी ने कहा कि आरोपी सोनू के खिलाफ अश्लील आचरण, छेड़खानी और धमकाने के साथ ही पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। सोनू के खिलाफ अदालत में प्रभावी तरीके से पैरवी की जाएगी। वहीं उसकी गतिविधियों पर निगरानी के लिए उसकी हिस्ट्रीशीट खोली। स्थानीय लोगों से पूछताछ पर लोगों ने पुलिस को बताया कि सोनू का पिता काशीनाथ प्रजापति उर्फ नेऊर लक्सा थाने के मेस के साथ ही रोजमर्रा के अन्य कार्यों को भी बतौर मजदूर करता है। इस वजह से सोनू का थाने में आना जाना लगा रहता था। यही कारण भी है कि वह पुलिस से नहीं डरता और मनमानी करता रहता है। सोनू को क्षेत्र के लोगों ने कई बार समझाया भी है, लेकिन वह सबको यहीं धौंस देता है कि जेल जाऊंगा और जमानत पर फिर बाहर आऊंगा। कोई कुछ कर नहीं पाएगा, इस वजह से अब उससे लोग कतराते हैं।

परिवार से अलग रहता है सोनू

सोनू चार भाइयों में दूसरे नंबर पर है। बड़ा भाई अलग रहता है, दो भाई परिवार के साथ रहते हैं। सोनू के पिता काशीनाथ ने बताया कि बीते साल फरवरी महीने में जेल से जमानत पर छूट कर सोनू बाहर आया तबसे वह घर नहीं आता है। उसका जहां मन करता है वहीं खाना खाता और फिर कहीं भी सो जाता है। बेटे की करतूत के बारे में सुन कर दुख होता है लेकिन हम क्या कर सकते हैं।

loading...
loading...

Check Also

बंधक बनाकर नाबालिग से दरिंदगी, 24 घंटे बाद हरकत में आई पुलिस, DIG ने दो पुलिसवालों को सस्पेंड किया !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में दो युवकों ने एक नाबालिग लड़की को बंधक बनाकर ...