Thursday , November 26 2020
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / टिकट कंफर्म नहीं है तो जान लें ये जरूरी बात, वेटिंग लिस्ट पर बड़ा फैसला लिया है रेलवे

टिकट कंफर्म नहीं है तो जान लें ये जरूरी बात, वेटिंग लिस्ट पर बड़ा फैसला लिया है रेलवे

लॉकडाउन के खत्म होने के बाद से रेलवे (Indian Railways) ने दोबारा स्पीड पकड़ ली है। तभी त्योहारी सीजन शुरू होते ही यात्रियों की भीड़ बढ़ने लगी है। इसी के चलते भारतीय रेलवे ने फेस्टिव स्पेशल ट्रेनें (Festive Special Trains) चलाई हैं। हालांकि कई ट्रेनों में वेटिंग लिस्ट भी लंबी हो गई है। इसी सिलसिले में रेलवे बोर्ड के चेयरमैन ने अहम जानकारी दी। रेलवे की ओर से एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया गया कि अनारक्षित टिकट या वेटिंग लिस्ट (Waiting list in train) टिकट पर यात्रा करने की लोगों को इजाज़त नहीं होगी। ऐसे में अगर आपका टिकट कंफर्म नहीं है तो आपको कुछ बातें जानना जरूरी है।

चार घंटे पहले कराएं रद्द
नए नियमों के मुताबिक अगर आपकी वेटिंग टिकट यात्रा वाले दिन कंफर्म नहीं होती है तो ट्रेन चलने से चार घंटे पहले आप उसे रद करवा लें। ऐसा करने पर आपको रिफंड मिल जाएगा। मगर समय रहते कैंसलेशन प्रक्रिया पूरी न होने पर आपको चार्ज भरना पड़ सकता है। रेलवे ने ये फैसला वेटिंग लिस्ट को कम करने के लिए किया है। स्पेशल ट्रेनों में अभी 300 तक की वेटिंग रखी गई है।

तीन स्टॉपेज के बाद खाली मानी जाएगी सीट
अगर कोई यात्री अपने निर्धारित स्टेशन पर किसी कारणवश सवार नहीं हो पाता है। तो अगले तीन स्टॉपेज के बाद टिकट चेकर की ओर से उस सीट को खाली घोषित कर दिया जाएगा। ऐसे में जिन लोगों का नाम वेटिंग लिस्ट में पहले हैं उन्हें ये सीट आरक्षित हो जाएगी।

वेटिंग लिस्ट में आई 8.9 फीसदी की कमी
सरकारी आंकड़ों के मुताबिक साल 2019-20 में औसत वेटिंग लिस्ट में 8.9 फीसदी की कमी आई है। बिजी शेड्यूल में करीब 13.3 फीसदी यात्रियों की टिकट कन्फर्म नहीं हो पाएं। एक आरटीआई में बताया गया कि साल 2019-20 में कुल 84,61,204 पीएनआर नंबर से जुड़े करीब सवा करोड़ यात्रियों की वेटिंग टिकट कन्फर्म नहीं हो पाए। इसके समाधान के लिए रेल मंत्रालय ने निजी ट्रेन शुरू करने का फैसला किया है।

loading...
loading...

Check Also

बच्चों के नाम पर जरूर खोलें ₹150 से ये सरकारी खाता, पढ़ाई के लिए 19 लाख रुपए मिलेंगे

बच्चों की पढ़ाई अच्छे से हो और भविष्य में वो एक काबिल इंसान बन सके ...