Wednesday , September 30 2020
Breaking News
Home / जरा हटके / टीचर्स पर नई मुसीबत, 2 बच्चे ही सबसे अच्छे, तीसरा ले जाएगा नौकरी !

टीचर्स पर नई मुसीबत, 2 बच्चे ही सबसे अच्छे, तीसरा ले जाएगा नौकरी !

भोपाल। मध्यप्रदेश में शिक्षकों के सामने अब एक नई परेशानी आकर खड़ी हो गई है। बता दें कि आने वाले दिनों में 26 जनवरी 2001 के बाद से जिनके तीन बच्चे होंगे उन्हें अपात्र माना जा सकता है। कई जिलों में विकासखंडों में शिक्षा अधिकारियों नें इससे जुड़ी जानकारियों को मांगा है। वहीं बीईओ ने भी संकुल प्रचार्यों से इस बारे में जानकारी मांगी है। साथ ही एक प्रपत्र भी भेजा गया है।

बता दें कि इससे पहले भी बीते कुछ महीनों में शिक्षकों पर कई संकट आ चुके हैं। जिसमें खराब रिजल्ट, डीए रुकने , वेतन वृद्धि पर कार्रवाई की जा चुकी है।

कॉलम में मांगी गई जानकारी

पन्ना के इंचार्ज डीईओ ने बीईओ से इस तरह की जानकारी मांगी है। जानकारी के लिए बता दें कि इस प्रपत्र में सात कॉलम दिए गए है। जिसके छठवें कॉलम में 26 जनवरी 2001 के बाद से बच्चों की संख्या संबंधित जानकारी का जिक्र किया गया है। जिसमें बताना होगा कि आपके कितने बच्चे हैं।

इस पूरे मामले के बारे में पन्ना के इंचार्ज डीईओ आरपी भटनागर का कहना है कि ये जानाकारी सिर्फ स्थापन शाखा में संकलन के मांगी जा रही है। बाकी अभी इसका कोई उपयोग नहीं किया जाना है। वहीं दूसरी ओर मध्यप्रदेश शिक्षक कांग्रेस के जिलाध्यक्ष ने बताया है कि यह न्यायोचित नहीं है। उनके द्वारा ज्ञापन सौंपकर इस विरोध भी दर्ज कराया गया है।

प्रावधान तो है लेकिन अभी कार्रवाई नहीं

इस बार में स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री इंदर सिंह परमार का कहना है कि सिर्फ शिक्षा विभाग से नहीं बल्कि कई विभागों से ये जानकारी मांगी गई है। ये जानकारी पहले भी मांगी जा चुकी है। प्रावधान तो बनाया गया है लेकिन अभी इस बारे में कोई भी कार्रवाई नहीं की गई है। पहले भी सर्कुलर जारी हुआ था, जिसके बाद विधानसभी में किए गए प्रश्न को लेकर जानकारी मांगी गई है।

loading...
loading...

Check Also

गुजरात में कोरोना मरीज की ऑटोप्सी में चौंकाने वाला खुलासा, पत्थर की तरह हो गए थे फेफड़े !

गुजरात के राजकोट में शुरू हुए देश के दूसरे कोविड ऑटोप्सी सेंटर में अब तक ...