Sunday , November 29 2020
Breaking News
Home / क्राइम / डेडली लव ट्राएंगल : पत्नी की तलाश में दोस्त के फ्लैट पहुंचा पति, अंदर सड़ रहे थे दोनों के शव

डेडली लव ट्राएंगल : पत्नी की तलाश में दोस्त के फ्लैट पहुंचा पति, अंदर सड़ रहे थे दोनों के शव

महाराष्ट्र के ठाणे से एक बेहद हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक शख्स अपनी लापता पत्नी की तलाश करते हुए अपने सबसे करीबी दोस्त के घर तक पहुंचा। वहां उसकी पत्नी और उसके दोस्त का शव कई दिनों से सड़ी-गली हालत में पड़ा हुआ था। पुलिस जांच में सामने आया है कि महिला के हत्या के बाद पीड़ित के दोस्त ने अपना गला काट लिया। पुलिस ने इस मामले में हत्या और आत्महत्या का केस दर्ज कर लिया है।

गुरुवार शाम को दोनों के शव ठाणे के अंबरनाथ इलाके में एक फ्लैट से बरामद हुए। शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। अंबरनाथ पुलिस के अनुसार, 36 साल की जयंती शाह 17 नवंबर से लापता थीं और उनके पति अजित ने शिवाजी नगर पुलिस स्टेशन में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। दूसरा शव उसके साथ काम करने वाले 39 साल के संदीप सक्सेना का था जो अंबरनाथ पूर्व में प्रसादम रेजीडेंसी में रहता था।

स्टोन ग्राइंडर कटर से हुई दोनों की हत्या
पुलिस को संदीप सक्सेना के शव के पास से एक स्टोन ग्राइंडर कटर बरामद हुआ है। माना जा रहा है कि संदीप ने इसी से अपना गला काटा है। माना जा रहा है कि संदीप ने पहले जयंती की हत्या की और बाद में खुद का भी गला काट लि‍या। दोनों के बीच संबंधों और हत्या की वजहों की पुलिस तलाश कर रही है।

सक्सेना और अजित में थी अच्छी दोस्ती
जांच में सामने आया है कि मृतक सक्सेना और अजित, अंबरनाथ में एक निजी फर्म में काम करते थे। दोनों अच्छे दोस्त थे और सक्सेना अकसर उनके घर आया करता था। माना जा रहा है कि इसी दौरान वह जयंती के करीब आया होगा। पुलिस को दिए अपने बयान में भी अजित ने दोनों के बीच दोस्ती की बात को कबूल किया है। हालांकि, पुलिस ने अभी तक अजित को क्लीन चिट नहीं दी है।

ऐसे दोस्त के घर तक पहुंचा अजित
कई दिन तक खोजने के बाद भी जब जयंती नहीं मिली तो अजित ने गुरुवार को संदीप को फोन किया। संदीप का फोन भी बंद आया। इसपर उसे थोड़ा संदेह हुआ। वह संदीप से मिलने उसके घर पहुंचा तो उसके फ्लैट का दरवाजा खुला हुआ था। अजित जैसे ही बेडरूम में पहुंचा दोनों के शव फर्श पर पड़े हुए थे। पूरे कमरे में खून फैला हुआ था और शव लगभग सड़ चुके थे।

loading...
loading...

Check Also

43 मजदूरों को अगवा किए आतंकी, हाथ-पैर बांधे और सबकी गर्दन काट दी

नाइजीरिया में बोको हराम के लड़ाकों ने खेतों में काम करने वाले 43 मजदूरों की ...