Sunday , September 27 2020
Breaking News
Home / क्राइम / ड्रैगन की नौसेना ने समंदर में बनाया सीक्रेट ठिकाना, सैटेलाइट तस्वीर ने राज खोला

ड्रैगन की नौसेना ने समंदर में बनाया सीक्रेट ठिकाना, सैटेलाइट तस्वीर ने राज खोला

साउथ चाइना सी में अमेरिका के साथ लगातार बढ़ते तनाव को देखते हुए चीनी सेना ने युद्धपोतों और पनडुब्बियों की तैनाती को बढ़ा दिया है। इससे क्षेत्रीय इलाकों की शांति और स्थिरता को भी खतरा पैदा हो गया है। चीन के जंगी जहाज और पनडुब्बियां क्षेत्र में अपना दबदबा कायम करने के लिए लगातार गश्त कर रही हैं। इस दौरान सैटेलाइट से ली गई चीनी सीक्रेट नेवल बेस की एक तस्वीर ने अमेरिका, ताइवान और जापान की चिंताओं को बढ़ा दिया है।

सैटेलाइट तस्वीर से खुली चीन की पोल
प्लैनेट लैब्स की इस सैटेलाइट तस्वीर में चीन ने हैनान द्वीप के यूलिन नेवल बेस पर बने एक सीक्रेट बंकर के दरवाजे पर चीन की टाइप 093 पनडुब्बी दिखाई दे रही है। विशेषज्ञों के अनुसार, द्वीप के अंदर इस सुरंग को ऐसा बनाया गया है जिसमें किसी भी परमाणु पनडुब्बी को आसानी से छिपाया जा सकता है। चीन कई साल से इस नेवल बेस का प्रयोग कर रहा है। ड्रैगन की पोल तब खुली जब टाइप 093 पनडुब्बी को इस सुरंग के दरवाजे पर सैटेलाइट ने देख लिया।

रणनीतिक रूप से अहम है यूलिन नेवल बेस
रणनीतिक रूप से अहम हैनान द्वीप फिलीपींस सागर और प्रशांत महासागर में चीन का प्रवेश द्वार है। चीन यहां से न केवल साउथ चाइना सी में पारसेल आइलैंड के ऊपर नजर रख सकता है, बल्कि ताइवान, फिलीपींस, वियतनाम जैसे देशों के खिलाफ भी कार्रवाई कर सकता है। पारसेल आईलैंज के पास ही अमेरिकी नेवी ने कुछ दिन पहले युद्धाभ्यास किया था। जिसमें, अमेरिका का एयरक्राफ्ट कैरियर यूएएस रोनाल्ड रीगन ने हिस्सा लिया था।

परमाणु शक्ति से चलती है टाइप 093 पनडुब्बी
चीन के टाइप 093 पनडुब्बी को शेंग क्लास की पनडुब्बी भी कहा जाता है। इस पनडुब्बी को चाइना शिपबिल्डिंग इंडस्ट्री कॉर्पोरेशन ने बनाया है। यह पनडुब्बी वाईजे-90 सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल के साथ सीजे-10 क्रूज मिसाइल से लैस है। यह पनडुब्बी परमाणु शक्ति से चलती है, जिसके कारण समुद्र में महीनों तक यह ऑपरेशन को अंजाम देने में सक्षम है।

Check Also

UN में चीन को रूस ने दी जो कड़ी चेतावनी, वो अभी तक समझ नहीं पाई दुनिया भर की मीडिया

वुहान वायरस ने वैश्विक राजनीति का दृष्टिकोण पूरी तरह से बदलकर रख दिया है। अब ...