Friday , November 27 2020
Breaking News
Home / क्राइम / दिल्‍ली में घूम रहा शातिर गिरोह, ऐसा देता झांसा कि खुद सबकुछ सौंप देती हैं महिलाएं

दिल्‍ली में घूम रहा शातिर गिरोह, ऐसा देता झांसा कि खुद सबकुछ सौंप देती हैं महिलाएं

नई दिल्‍ली
यमुनापार में ठगों के ऐसे गैंग सक्रिय है, जो ऐसे झांसे देकर सरेराह महिलाओं की जूलरी उतरवा कर फरार हो जाते हैं। इस गैंग की चपेट में कई महिलाएं आ चुकी हैं। जीटीबी एनक्लेव में हुई वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद भी हुई। अब लक्ष्मी नगर और शकरपुर में दो महिलाएं इनका शिकार बनी हैं। इस तरह की कई वारदातें हो चुकी हैं, लेकिन बदमाश पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ पा रहे हैं।

हिप्‍नोटाइज सा हो गई पीड़‍ित महिला
सुमन गुप्ता (50) परिवार समेत लक्ष्मी नगर के कृष्ण कुंज में रहती हैं। वह घरेलू महिला हैं। वह 30 अक्टूबर की शाम करीब 4.30 बजे लक्ष्मी नगर मार्केट सामान खरीदने जा रही थीं। लक्ष्मी नगर मार्केट मैन रोड पर स्थित जूस की दुकान के पास एक लड़का उनसे कश्मीरी गेट का रास्ता पूछने लगा। लड़के के हाथ में एक पैकेट था, जिसने बताया कि उसके पास किराया नहीं है। इसी दौरान एक दूसरा लड़का वहां आया, जिसने उसे 100 रुपये दे दिए। इस लड़के ने उसका पैकेट खोला तो उसमें काफी पैसा था। वह बोला कि यह रकम कोई ले लेगा।

सुमन का दावा है कि पैकेट खुलते उनका खुद पर कंट्रोल नहीं रहा। वह इनके साथ बाल भवन स्कूल की तरफ चल दी। वहां उनके कहने पर दो जोड़ी गोल्ड की चूड़ी, तीन सोने की अंगूठियां, एक चेन पेंडल समेत उनको सौंप दिया। उन्होंने रुमाल में लपेटकर दे दिया। इसके बाद सुभाष चौक की तरफ ले आए, जहां तीसरा लड़का मिला। वह विकास मार्ग रेडलाइट पर आई तो होश आया। लेकिन तीनों फरार हो चुके थे। उन्होंने घर आकर रुमाल खोला तो सारी जूलरी गायब थी। लक्ष्मी नगर थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।

5 लाख के लालच में लुट गई महिला
दूसरी वारदात मंडावली की मुनेश शर्मा (51) के साथ हुई, जो 29 अक्टूबर को लक्ष्मी नगर सीजीएचएस डिस्पेंसरी में दवाई लेने आई थी। सुबह करीब 9.00 बजे वह दवाई लेने के बाद शकरपुर स्थित गणेश कचौड़ी वाले के सामने रिक्शे लेने खड़ी थी। इसी दौरान एक लड़का आया और उनसे आनंद विहार बस अड्डे का रास्ता पूछने लगा। उन्होंने जानकारी होने से इनकार किया तो लड़का कहने लगा कि आप मेरी मां समान हो, मुझे खाना खिला दो। अगर आप मुझे खाना खिला दोगी तो मैं आपको पांच लाख रुपये दूंगा। इसी दौरान दूसरा लड़का आ गया, जिसने नोटों की गड्डी दिखाई। फिर उन्हें गलियों में ले जाकर उनके कान के टॉप्स और पैरों की पायल लेकर फरार हो गए। शकरपुर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया।

मंदिर दर्शन के बहाने उतरवाए जेवर
जयश्री (50) परिवार समेत जीटीबी एनक्लेव इलाके में रहती हैं। वह एमटीएनएल में जॉब करती हैं। 26 अक्टूबर की सुबह 10.30 बजे वह मंदिर से लौट रही थी। एक लड़के ने रास्ता पूछने के बहाने से उन्हें रोका। इसी दौरान दूसरा लड़का भी आ गया। एक ने बताया कि ये दूसरा सिद्ध पुरुष है। उन्हें बातों में उलझाया। दुकान से कपूर लेकर आए। जयश्री भगवान के दर्शन कराने के बहाने सारी धातु वाली जूलरी उतारने को कहा। उन्होंने हाथ के कंगन, तीन सोने की अंगूठियां और गले की चेन उतरवा ली। उनको 81 कदम चलने को कहा, जो चलने लगी तो दो बाइक में सवार होकर उनके साथी आए और चारों रफूचक्कर हो गए। इसी तरह की वारदात 23 अक्टूबर को फर्श बाजार थाना इलाके में भी हुई थी।

loading...
loading...

Check Also

तरबूज बेचने वाले ने चाकू लहराकर इंस्पेक्टर को दी धमकी, फिर भी हाथ बढ़ा दिया वर्दीवाला !

राजकोट शहर के शास्त्रीनगर रोड पर अतिक्रमण हटाने पहुंची टीम के इंस्पेक्टर पर तरबूज बेच ...