Monday , March 1 2021
Breaking News
Home / जरा हटके / दीप सिद्धू का कॉल रिकॉर्ड निकाला जाए तो ‘दूध का दूध पानी का पानी’ हो जाएगा : पत्रकार

दीप सिद्धू का कॉल रिकॉर्ड निकाला जाए तो ‘दूध का दूध पानी का पानी’ हो जाएगा : पत्रकार

गणतंत्र दिवस के मौके पर दिल्ली में ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसक घटनाओं के पीछे पंजाबी अभिनेता दीप सिद्धू का नाम सामने आ रहा है। दीप सिद्दू पर आरोप है कि लाल किले के अंदर उन्होंने कई उत्तेजक नारे लगाकर युवाओं को उकसा कर धार्मिक झंडा फहराया था।

आपको बता दें कि दीप सिद्धू भाजपा सांसद सन्नी देओल और उनके परिवार के करीबी माने जाते हैं।

इस मामले में पत्रकार साक्षी जोशी ने भाजपा पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि “ढाई किलो का दाहिना हाथ हुड़दंगी दीप सिद्धू, मैं तो कह रही हूँ न पिछले एक हफ़्ते के इसके फ़ोन रिकॉर्ड, कहाँ गया किससे मिला, सब निकाल लोगे तो दूध का दूध पानी का पानी हो जाएगा। बशर्ते अब ये कोमल शर्मा न हो जाए।”

सोशल मीडिया पर सनी देओल के चुनाव प्रचार की तस्वीरें वायरल हो रही हैं। जब वह लोकसभा चुनाव 2019 में पंजाब की गुरदासपुर सीट से खड़े हुए थे।

इस दौरान चुनाव प्रचार में सनी देओल एक रैली के दौरान दीप सिद्धू के साथ नजर आ रहे हैं।

लाल किले में हुई इस घटना के बाद सनी देओल ने ट्विटर पर लिखा है कि उनका दीप सिद्धू के साथ कोई लेना देना नहीं है और ना ही उनके परिवार का। 6 दिसंबर को भी मैं ट्विटर के जरिए यह साफ कह चुका हूं कि उनका दीप सिद्धू से कोई संबंध नहीं है।

आपको बता दें कि भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने भी लाल किले पर झंडा फहराने वाले और किसानों को उकसाने वाले शख्स के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। ताकि सच्चाई सामने आ जाए।

किसान नेताओं ने साफ तौर पर कहा है कि उनका लाल किले पर जाने का कोई भी कार्यक्रम में नहीं था। दीप सिद्धू ने ही किसानों को साफ कर इस ट्रैक्टर परेड के दौरान हिंसा करवाई है। इस सब में भारतीय जनता पार्टी का भी हाथ है।

loading...
loading...

Check Also

यूपी में थमने लगी कोरोना की रफ़्तार, ये आकड़े देखकर आपको मिलेगी राहत

प्रदेश में कल एक दिन में कुल 1,15,516 सैम्पल की जांच की गयी प्रदेश में ...