Sunday , September 20 2020
Breaking News
Home / क्राइम / नाबालिगों ने किया गैंगरेप, शर्मिंदगी में पति ने पीड़ित पत्नी का गला काटा, फिर फांसी लगा ली

नाबालिगों ने किया गैंगरेप, शर्मिंदगी में पति ने पीड़ित पत्नी का गला काटा, फिर फांसी लगा ली

ये सनसनीखेज खबर हरियाणा के हिसार से सामने आई है। यहां बरवाला कस्बे के एक गांव में दिल को दहलाने वाली घटना सामने आई है। यहां पत्नी के साथ हुए गैंगरेप से आहत होकर और बदनामी के डर से दंपति ने सुसाइड कर लिया। पति ने पहले पत्नी की ब्लेड से गला काटकर हत्या की,फिर खुद फांसी लगाकर जान दी। इसका पता मंगलवार सुबह 7 बजे चला, जब सोकर उठे सात वर्षीय मासूम ने कमरे में मां को खून से लथपथ व पिता को फंदे से लटका देखा। उसने दादा को मामले की जानकारी दी। इसके बाद पुलिस की टीम पहुंची। कमरे में एक सुसाइड नोट भी मिला है।

पुलिस ने मृतका के भाई की शिकायत पर दिवंगत जीजा के खिलाफ हत्या, 2 आरोपी नाबालिग युवकों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने और सामूहिक दुष्कर्म का केस दर्ज कर लिया है। मृतक पेशे से मजदूरी करता था। आरोपी युवक पढ़ाई के अलावा मजदूरी भी करते हैं।

सुसाइड नोट में ये लिखा:  

15 अगस्त शनिवार की रात को मैं घर से बाहर गया हुआ था। जब मैं आया तो मुझे मेरी पत्नी रोती मिली। पूछा तो वह बोली कि शैतानों ने मेरे साथ जबरदस्ती की है। जीने का कोई फायदा नहीं है। अब मौत ही अच्छी है। मैंने बोला कि पुलिस में शिकायत करते हैं, तो वो बोली कि दरखास्त का कोई फायदा नहीं है। मेरी जान ले लो। मैं बोला कि तेरी जान लेने से मैं गुनाहगार हो जाऊंगा। दोषी तो आराम से रहेंगे। फिर वह बोली कि तेरा क्या इरादा है।

मैं बोला कि मेरी जान भी तेरे साथ जाएगी। हमारे पास कोई भी उपाय नहीं था। हमारी मौत के जिम्मेवार वे दोनों युवक हैं। मर तो हम दो सकते थे, लेकिन बच्चे को साथ में लेना पड़ा। गुड बाय। पढ़ने वालों को आखिरी राम-राम। हमारे बेटे ( इशारा-शायद दादा-दादी के पास रहने वाले बेटे की ओर) को कभी मां-बाप की कमी न होने देना।

-जैसा पुलिस के हाथ लगे सुसाइड नोट में लिखा है। इसे फांसी लगाने से पहले महिला के पति ने छोड़ा है।

पुलिस को इस बात का भी संदेह

बरवाला थाना एसएचओ कुलदीप ने बताया कि दंपती के 2 बेटे हैं। बड़ा बेटा पास में ही रहने वाले दादा-दादी के पास रहता है। छोटे 7 वर्षीय बेटे को अपने पास रखते थे। सुसाइड नोट में लिखा है 3 जिंदगी। दंपती ने न सिर्फ अपने लिए, बल्कि मासूम बेटे के लिए भी मौत को चुना था। गनीमत रही कि उसकी जिंदगी बख्श दी। सोमवार देर रात कमरे को अंदर से बंद कर पति ने पहले पत्नी का गला काटा। फिर फांसी लगाई। सुबह करीब 7 बजे बेटा सोकर उठा तो उसने फर्श पर मां का शव खून से लथपथ व पिता को फंदे पर झूलते देखा था। दरवाजे की ऊपर वाली कुंडी लगी हुई थी, जिसे बच्चे ने कुर्सी पर चढ़कर खोला। सहमा हुआ बच्चा दादा-दादी के पास पहुंचा था, जिसने खौफनाक मंजर के बारे में बताया। जिन 2 लड़कों पर सामूहिक दुष्कर्म व आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगा है, वे नाबालिग बताए जा रहे हैं। हालांकि, उनकी धरपकड़ के बाद ही सच्चाई सामने आएगी।

दुष्कर्म हुआ था या नहीं, होगी जांच

पुलिस के अनुसार महिला के साथ दुष्कर्म हुआ था या नहीं, यह जानने के लिए पोस्टमार्टम के दौरान नमूना लिया है। इसे जांच के लिए फोरेंसिक लैब में भिजवाया जाएगा। आरोपियों की गिरफ्तारी होने के बाद उनका मेडिकल करवाकर रक्त सहित कपड़ों का नमूना लेकर जांच के लिए लैब भेजा जाएगा,जहां मिलान होकर आरोप की सत्यता उजागर होगी। महिला के गले पर ब्लेड से वार करके अंदर तक काटा हुआ है। महिला के पति के हाथ पर एक जगह कट का निशान है। इसके बाद उसने सुसाइड किया था।

Check Also

WorldWar-3 : अमेरिका-चीन में छिड़ने को है जंग, कौन सा देश खड़ा होगा किसके संग ?

पेइचिंग :  अमेरिका और चीन के बीच जारी तल्खी लगातार बढ़ती जा रही है। साउथ ...