Sunday , September 20 2020
Breaking News
Home / क्राइम / पीएम के नाम पर पब्लिक ने किया ऐतबार, 15 हजार लोग हो गए फर्जीवाड़े के शिकार

पीएम के नाम पर पब्लिक ने किया ऐतबार, 15 हजार लोग हो गए फर्जीवाड़े के शिकार

नई दिल्ली।
अगर आप ऑनलाइन ( Online Fraud ) सरकार की किसी भी योजना के लिए आवेदन करते हैं तो आपको सतर्क हो जाना चाहिए। क्योंकि साइबर ठग ( Cyber Crime ) अब पीएम मोदी ( pm modi ) के नाम पर चल रही योजनाओं के जरिए लोगों को जाल में फंसा रहे हैं। ये शातिर लोग पीएम मोदी की योजना ( PM Modi Schemes ) के रजिस्ट्रेशन के नाम लोगों से पैसे हड़प लेते हैं।

दिल्ली पुलिस ( Delhi Police ) की साइबर सेल ने ऐसे ही एक मामले का खुलासा करते हुए यूपी ( UP Bihar ) और बिहार से तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। तीनों ने पीएम शिशु विकास योजना ( PM Shishu Vikas Yojana ) के नाम से दो फ़र्ज़ी वेबसाइटें चला रखी थी। पुलिस के अनुसार अब तक इन लोगों ने करीब 15 हज़ार से ज्यादा लोगों को ठगी का शिकार बनाया है।

रजिस्ट्रेशन के नाम पर 250 रुपये
डीसीपी साइबर सेल अनिमेष रॉय के मुताबिक नेशनल हेल्थ अथॉरिटी के निदेशक ने फर्जी वेबसाइटों को लेकर शिकायत दी थी। इस पर पुलिस ने नीरज पांडे और सुरेंद्र यादव को पटना से और आदर्श यादव को अयोध्या से गिरफ्तार किया गया। पड़ताल में सामने आया कि ये लोग फ़र्ज़ी वेबसाइट के जरिए गरीब परिवारों के बच्चों को हेल्थ इंश्योरेंस और शिक्षा में मदद करने के नाम पर उनका फ़र्ज़ी रजिस्ट्रेशन करते थे। इसके लिए ये हर परिवार से 250 रुपये लेते थे। ये लोगों को कई तरह की सरकारी फ़र्ज़ी स्कीमें भी बताते थे।

कई राज्यों में फैला नेटवर्क
पुलिस ने बताया कि गैंग के लोगों ने पूरे भारत में अलग अलग राज्यों में स्टेट हेड ,डिस्ट्रिक्ट हेड और तहसील स्तर पर एजेंट बना रखे थे। पकड़े गए आरोपी लोग पढ़े लिखे हैं, नीरज पांडे ने बीसीए किया है जबकि आदर्श यादव ने एमबीए किया है। अब तक ये गैंग 15 हज़ार लोगों के साथ ठगी कर चुका है। पुलिस ने लोगों को सलाह दी है कि ऐसी फ़र्ज़ी वेबसाइट से बचें।

Check Also

रेलवे ने दी एक और बड़ी खुशखबरी, ट्रेनों में नहीं मिलेगी वेटिंग, त्योहारों के सीजन में सुहाना होगा सफर

भोपाल। कोरोना संकट के बीच भारतीय रेलवे 21 सितंबर से और नई 20 जोड़ी क्लोन ट्रेनों ...