Saturday , January 16 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / बदायूं कांड में पुलिस की अलग ही थ्योरी, रेप-बर्बरता हुई ही नहीं, पीड़िता अपनी मौत मरी!

बदायूं कांड में पुलिस की अलग ही थ्योरी, रेप-बर्बरता हुई ही नहीं, पीड़िता अपनी मौत मरी!

यूपी के बदायूं में 50 साल की महिला से गैंगरेप और उसकी हत्या के मुख्य आरोपी पुजारी सत्यनारायण को गिरफ्तार हुए 24 घंटे से ज्यादा वक्त बीत चुका है। इस बीच एक चौंकाने वाली बात सामने आई है। दरअसल छोटे से छोटा गुडवर्क दिखाने वाली पुलिस इतने बड़े मामले में मुख्य आरोपी के पकड़े जाने के बाद भी कोई प्रेस कांफ्रेंस नहीं कर रही है। यह सवाल खटक रहा है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, पुलिस एक अलग थ्योरी पर काम कर रही है।

पुलिस की थ्योरी के मुताबिक, पुजारी ने पीड़ित को फोन कर मंदिर बुलाया। मंदिर पर शाम को एक-दो लोग पूजा करने के लिए पहुंचे हुए थे। किसी को शक न हो इसलिए वह मंदिर के पिछले दरवाजे से अंदर गयी। यह दरवाजा उसी कोठरी में खुलता है जिसमें कुआं था। लगभग 25 फीट गहरे कुएं में पुराना पंप सेट लगा हुआ है। पीड़ित फिसलकर कुएं में गिर गई। इससे उसे बुरी तरह चोट आई।

जब उसके रोने की आवाज आई, तो पुजारी कोठरी में गया। उसने वेदराम को बुलाया। वेदराम ने जसपाल को बुलाया। पहले वे महिला को लेकर चंदौसी गए। लेकिन अस्पताल ने महिला की हालत देखते हुए बिना परिजनों के इलाज करने से मना कर दिया। फिर तीनों उसे उसके घर ले गए और वहीं छोड़कर भाग गए।

बता दें कि पुलिस ने जब पुजारी और पीड़ित के मोबाइल नंबर खंगाले, तो पता चला कि बीते तीन महीनों में पुजारी और पीड़ित के बीच फोन पर 800 बार बात हुई। पुजारी और पीड़ित के बीच फोन पर बातचीत की तस्दीक खुद पीड़िता की मां ने यह कहकर की थी कि हादसे वाले दिन यानी रविवार को पुजारी ने ही फोन कर पीड़ित को मंदिर बुलाया था।

खबर साभार- भास्कर

loading...
loading...

Check Also

जिंदगी की डोज : मार्च से बाजार में मिलेगी कोरोना वैक्सीन, जानें दाम

नई दिल्ली देश में शनिवार से कोरोना के खिलाफ वैक्सीनेशन कार्यक्रम की शुरुआत हो रही ...