Sunday , February 28 2021
Breaking News
Home / जरा हटके / पुलवामा हमले की बरसी पर सेना ने जारी किया वीडियो, देश कभी नहीं भूलेगा जवानों का बलिदान

पुलवामा हमले की बरसी पर सेना ने जारी किया वीडियो, देश कभी नहीं भूलेगा जवानों का बलिदान

नई दिल्ली :  पुलवामा हमले की दूसरी बरसी पर भारतीय सेना ने किसी को भी अंदर से झकझोर कर रख देने वाला एक वीडियो जारी किया है। चिनार कॉर्प्स के ट्विटर हैंडल से जारी यह वीडियो पूरी घटना और उसके बाद भारत सरकार के उठाए कदमों के बारे में बताता है। वीडियो की शुरुआत में बताया गया है कि सीआरपीएफ बटालियन की बसों को टारगेट करने वाला आत्मघाती आतंकवादी सिर्फ 20 वर्ष का आदिल अहमद डार था।

CRPF के दस्ते पर 14 फरवरी, 2019 को आत्मघाती हमला

उसने अपने घर से महज 10 किलोमीटर की दूर पर ही हाइवे पर सीआरपीएफ की बसों को विस्फोटकों से भरी कार के जरिए निशाना बनाया और इस घटना में 40 जवान शहीद हो गए। 14 फरवरी 2019 को हुए पुलवामा आतंकी हमले ने 70 अन्य जवानों को जख्मी कर दिया। इस घटना के बाद भारत ने पाकिस्तान से ‘Most Favoured Nation’ का दर्जा वापस ले लिया, उसके साथ व्यापार बंद कर दिए और कूटनीतिक मोर्च पर उसकी घेरेबंदी की जाने लगी।

वीडियो के ही एक दृश्य में बताया गया है कि 18 ताबूतों को करीब-करीब खाली परिवारों को भेजा गया।

वीडियो के आखिर में दो शेर लिखे गए हैं जो इस प्रकार हैं-
बिठाकर पास बच्चों को जो कल किस्से सुनाता था,
उसे किस्सा बनाने को, क्या जायज ये धमाका था?


पहुंचा घर जो उसके था वो ताबूत था खाली,
उठा जो उसकी चौखट से बहुत भारी जनाजा था।

गृह मंत्री ने शहीद जवानों को दी श्रद्धांजलि
गृह मंत्री अमित शाह ने 2019 में पुलवामा हमले में जान गंवाने वाले सीआरपीएफ के जवानों को श्रद्धांजलि दी है। गृह मंत्री ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘भारत उनके असाधारण साहस और सर्वोच्च बलिदान को कभी नहीं भूलेगा।’

रक्षा मंत्री ने सीआरपीएफ के शहीद जवानों को दी श्रद्धांजलि
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 2019 पुलवामा आतंकी हमले में जान गंवाने वाले सीआरपीएफ के जवानों को श्रद्धांजलि दी है। उन्होंने कहा, ‘भारत राष्ट्र के प्रति उनकी सेवा और उनके सर्वोच्च बलिदान को कभी नहीं भूलेगा।’

बालाकोट एयरस्ट्राइक से कांपी पाकिस्तान की रूह
ध्यान रहे कि भारत ने पुलवामा हमले के जवाब में पाकिस्तान के अंदर घुसकर बालाकोट एयरस्ट्राइक को अंजाम दिया और दर्जनों आतंकवादियों को ठिकाने लगा दिए। इतना ही नहीं, विश्व बिरादरी से पाकिस्तान को अलग-थलग करने और परोक्ष तौर पर उसे आंतकी राष्ट्र घोषित करवाने की मुहिम छेड़ी गई। भारत का यह प्रयास काफी हद तक रंग भी ला रहा है। अंतरराष्ट्रीय संस्था FATF पाकिस्तान पर आतंकी फंडिंग को लेकर लगातार शिकंजा कस रहा है और पाकिस्तान पूरी तरह बिलबिला उठा है। पाकिस्तान की इमरान खान सरकार अंतरराष्ट्रीय दबाव के आगे घुटने टेकने पर मजबूर हुई है और उसे अपने यहां पल रहे आतंकियों को एक-एक कर जेल भेजना पड़ रहा है।

loading...
loading...

Check Also

राम मंदिर के लिए चंदा अभियान हुआ पूरा, जानिए कितने हजार करोड़ रुपये हुए जमा

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के देश के कोने-कोने से चंदा आया है. लोगों ने ...