Friday , April 23 2021
Breaking News
Home / ऑफबीट / प्रतापगढ़ : पंचायत चुनाव में मुर्दे भी करेंगे मतदान !

प्रतापगढ़ : पंचायत चुनाव में मुर्दे भी करेंगे मतदान !

100 किमी दूर लगी बीएलओ महिला की चुनाव ड्यूटी
– निर्वाचन आयोग के आदेश की उड़ रही धज्जियां

प्रतापगढ़/परियावां। आगामी होने वाले त्रिस्तरीय ग्राम पंचायत चुनाव में बीएलओ की ड्यूटी गृह क्षेत्र से दूर लगाई गई। मालूम हो कि आगामी 19 अप्रैल को द्वितीय चरण में होने वाले ग्राम पंचायत चुनाव में चुनाव सम्पन्न कराने के लिये ब्लाक मुख्यालय कालाकांकर की शिक्षा मित्र कुसुम देबी की डियूटी गृह क्षेत्र से 100 किमी दूर जनपद प्रतापगढ़ के ब्लाक बाबा बेलखरनाथ धाम में डियूटी लगाई गई है।

जबकि निर्वाचन आयोग पहले ही आदेश कर रखा है कि बीएलओ की चुनाव ड्यूटी गृह क्षेत्र में ही लगाई जाएगी ताकि चुनाव सम्पन्न कराने के बाद वापस अपने घर समय से जा सके, लेकिन शिक्षा विभाग प्रतापगढ़ द्वारा चुनाव आयोग के आदेश को ताक पर रखकर गृह क्षेत्र से 100 किमी दूर महिला शिक्षा मित्र बीएलओ कुसुम देबी की चुनाव डियूटी ब्लाक बाबा बेलखरनाथ धाम में लगाई गई है। जबकि ब्लाक मुख्यालय कालाकांकर के अन्य महिला बीएलओ की चुनाव ड्यूटी गृह क्षेत्र में ही लगाई गई। इस तरह शिक्षा विभाग आँख बन्द कर बिना सोचे समझें बीएलओ की चुनाव ड्यूटी लगा रहे हैं जिससे चुनाव कराने से लेकर सम्पन्न होने के बाद वापस अपने घर लौटने में किसी प्रकार की कोई अनहोनी घटना होने का खतरा रहता है। बीएलओ कुसुम देबी के पति उमाकांत पाण्डेय ने बताया कि इधर कई दिनों से कुसुम देबी को फीवर की शिकायत है जिनका उपचार चल रहा है। ऐसे में 100 किमी दूर चुनाव की डियूटी लगा दी गई है।

पंचायत चुनाव में मुर्दे भी करेंगे मतदान!
प्रतापगढ़। कई चरणों के सत्यापन के बावजूद भी अन्नतिम मतदाता सूची से मुर्दों का नाम नहीं हटाया गया। मतदाता सूची में भारी गड़बड़ी के चलते डीएम आवास पर सैकड़ांे ग्रामीणांे का धरना प्रदर्शन हुआ। सप्ताह भर पूर्व आई सूची में जुड़े मतदाताओ का नाम काटे जाने से ग्रामीणों में आक्रोश है। सांगीपुर इलाके के मुरैनी ग्राम सभा के 82 लोगों का नाम काटे जाने से ग्रामीणांे ने हंगामा किया। बता दें कि मुरैनी गांव के भागीरथी, गुरुदीन, लहरी समेत आधा दर्जन मृतकों और नाबालिगों का नाम भी मतदाता सूची में शामिल है। बाबा बेलखरनाथ धाम के शेखपुर अठगवा निवासी मृतक प्रभावती, ईश्वरदीन, छोटका और शांति देवी का भी नाम सूची में शामिल हैं जबकि इन सबकी मृत्यु हो चुकी है।

loading...
loading...

Check Also

30 अप्रैल को है महिला कांस्टेबल की शादी, लॉकडाउन के कारण छुट्‌टी नहीं मिली तो थाने में ही रस्म अदायगी

डूंगरपुर।  आमतौर पर थानों में चोर-बदमाश की धरपकड़ की बातें, मुजरिमों को हड़काने की आवाज ...