Sunday , February 28 2021
Breaking News
Home / अपराध / प्राइवेट वीडियो, कहीं और शादी नहीं होने दी.. सदमे से मां की मौत : महाराष्ट्र के मंत्री पर गंभीर आरोप

प्राइवेट वीडियो, कहीं और शादी नहीं होने दी.. सदमे से मां की मौत : महाराष्ट्र के मंत्री पर गंभीर आरोप

महाराष्ट्र सरकार में सामाजिक न्याय मंत्री और एनसीपी नेता धनंजय पंडितराव मुंडे पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली महिला ने इस मामले से जुड़े कई बड़े खुलासे किए हैं। इंडिया टुडे को दिए साक्षात्कार में महिला का कहना है कि धनंजय मुंडे के पास उसके तमाम प्राइवेट वीडियो मौजूद हैं और उन्हें डर है कि वह वीडियो लीक कर सकते हैं। उसकी ज़िंदगी बर्बाद हो चुकी है लेकिन वह इंसाफ़ के लिए अपनी लड़ाई जारी रखेंगी।

महिला ने एनसीपी नेता पर और भी कई गम्भीर आरोप लगाए हैं। महिला के मुताबिक़ धनंजय मुंडे ने उससे शादी का वादा किया था और दोनों 2006 से रिलेशनशिप में हैं। इसके बाद महिला ने कहा, “जब मेरी माँ को पूरे मामले के बारे में पता चला तो वह सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाई और उनकी मृत्यु हो गई। मैं 2014 में मुंबई आई थी और यहाँ पीजी में रहती थी। उसमें पुरुषों को आने की अनुमति नहीं थी इसलिए धनंजय मुंडे ने मेरे लिए किराए का मकान लिया। मुझे उस मकान में ही रहना पड़ता था और उसका किराया वह खुद देता था।”

महिला ने कहा, “धनंजय मुंडे की वजह से मेरी ज़िंदगी और करियर दोनों बर्बाद हो गए। उसने मुझे किसी और से शादी तक नहीं करने दी। अब मुंडे मुझे पहचानने से भी मना कर देता है और पुलिस से मदद माँगने का कोई मतलब नहीं है। उसने मेरे साथ कई जगहों पर सम्बन्ध बनाए हैं, मुझे कब तक अत्याचार झेलना पड़ेगा? मेरे साथ न्याय कब होगा?”

हाल ही में राष्ट्रवादी कॉन्ग्रेस पार्टी (एनसीपी) के मुखिया शरद पवार ने महाराष्ट्र सरकार में सामाजिक न्याय मंत्री धनंजय मुंडे पर लगाए गए बलात्कार के आरोपों पर बयान दिया था। गुरुवार (14 जनवरी 2021) को दिए गए बयान में शरद पवार ने कहा कि एनसीपी नेता पर लगाए गए आरोप गंभीर हैं। इस घटना पर संगठन के शीर्ष नेताओं की बैठक होगी और उसके बाद ही धनंजय मुंडे पर कोई फैसला लिया जाएगा।

शरद पवार ने अपने बयान में यह भी कहा था, “मुंडे ने मुझसे मुलाक़ात की थी और इन आरोपों के बारे में विस्तार से जानकारी दी थी। मुंडे ने कहा था कि जिस महिला ने उन पर आरोप लगाया उससे उनका नज़दीकी रिश्ता था। उनके खिलाफ़ एफ़आईआर दर्ज की जा चुकी है और बहुत जल्द जाँच भी शुरू हो जाएगी। मुंडे की बातों से ऐसा लगता है कि जैसे उन्हें इसका अनुमान था इसलिए उन्होंने पहले ही इस मामले में हाईकोर्ट का रुख किया था।”

इस घटना पर महाराष्ट्र भाजपा ने महाराष्ट्र सरकार के मंत्री का जम कर विरोध किया था। भाजपा के प्रदेश संगठन का कहना था कि धनञ्जय मुंडे को इस्तीफ़ा दे देना चाहिए। राज्य निर्वाचन आयोग को उन पर कार्रवाई करनी चाहिए क्योंकि उन्होंने अपने चुनावी हलफ़नामे में अपनी दूसरी पत्नी की जानकारी छुपाए रखी।

दरअसल महिला ने महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार में मंत्री धनंजय मुंडे के खिलाफ रेप की शिकायत की थी। उन्होंने मुंबई के पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह को पत्र लिख कर शिकायत दर्ज कराई थी। उन्होंने कहा था कि अब तक इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की गई है। उन्होंने आरोप लगाया था कि ओशिवारा पुलिस थाना उनकी शिकायत नहीं दर्ज कर रहा है। उसने अपनी जान खतरे में होने का दावा भी किया था।

 

loading...
loading...

Check Also

राम मंदिर के लिए चंदा अभियान हुआ पूरा, जानिए कितने हजार करोड़ रुपये हुए जमा

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के देश के कोने-कोने से चंदा आया है. लोगों ने ...