Sunday , October 25 2020
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / बाजार से दाल लाकर फैमिली ने की फ्राई, खाते ही सबपर छा गई बेहोशी

बाजार से दाल लाकर फैमिली ने की फ्राई, खाते ही सबपर छा गई बेहोशी

फर्रुखाबाद. घर में बनी फ्राई मसूर की दाल खाकर एक ही परिवार के छह लोग बेहोश हो गए। सभी लोग सुबह नहीं उठे तो हड़कंप मच गया। आनन-फानन की स्थिति में सभी को लोहिया अस्पताल में भर्ती किया गया। यहां उपचार के बाद हालत में सुधार हुआ। दरअसल, अमृतपुर थाना क्षेत्र के गांव रम्पुरा निवासी रनवीर सिंह यादव की पत्नी मीना (40) ने रविवार रात मसूर की दाल बनाई थी। इसमें तड़का लगाया। इसके बाद रणवीर सिंह (45), पत्नी मीना, बेटी काजल (15), अर्चना (8), पुत्र नागेश (12), रावेश (7) ने यह दाल खाई। खाना खाकर सभी सो गए।

सब अस्पताल में भर्ती

रणवीर की बड़ी बेटी रुचि (18) ने दाल नहीं खाई थी। वह रोज की तरह सुबह पांच बजे उठी। कुछ देर बाद उसने सभी को उठाने की कोशिश की लेकिन कोई नहीं उठा। रुचि ने एक भाई को जबरन उठाकर बैठा दिया, तो वह लुढ़क गया। दूसरा आंगन में गिर गया। रुचि की सूचना पर मोहल्ले और परिवार के अन्य लोग आ गए। बेहोश हुए सभी लोगों को देर शाम लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया। मंगलवार दोपहर तक सभी की हालत में सुधार हो गया। हालांकि, बेहोशी का सही कारण किसी को पता नहीं लगा।

रुचि के ताऊजी शिवलाल यादव ने बताया कि सरसों के तेल से तड़का लगाया गया था और तेल भी घर का पिरा हुआ है। जिन्होंने वह दाल खाई उनकी तबियत बिगड़ गई। रुचि ने वह दाल नहीं खाई, तो उसे कुछ नहीं हुआ। तेल में ही कुछ होने की आशंका जताई गई है।

बिना धोए बनाई बाजार की दाल

लोहिया अस्पताल के डॉ. प्रशांत सेंगर ने बताया कि सभी सदस्य एक ही परिवार के हैं। बात तो कर रहे थे, मगर बेहोशी छा रही थी। बाजार की दाल बिना धोए खा ली थी। कीड़ों से बचाने को उसमें विषाक्त पाउडर मिलाया जाता है। हो सकता है उसी से फूड प्वाइजनिंग हुई हो। बहरहाल अब सभी स्वस्थ हैं।

loading...
loading...

Check Also

अगर आपको मालूम होंगे अपने ये 3 अधिकार, तो कभी नहीं लूट सकेंगे प्राइवेट अस्पताल

जब हमारे स्वास्थ्य में कोई गड़बड़ी आती है तो हमें अस्पताल जाना पड़ता है । ...