Monday , November 30 2020
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / बिकरू कांड : SIT की रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा, अब विकास दुबे की पत्नी रिचा पर होगी FIR

बिकरू कांड : SIT की रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा, अब विकास दुबे की पत्नी रिचा पर होगी FIR

कानपुर :  बिकरू हत्याकांड के बाद विकास दुबे की पत्नी रिचा दुबे को पुलिस ने क्लीन चिट देकर छोड़ दिया था। लेकिन एसआईटी की रिपोर्ट में हुए चौकाने वाले खुलासे से रिचा का बचना मुश्किल है। एसआईटी की रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि विकास दुबे की पत्नी रिचा, रिश्तेदार, और विकास के खास गुर्गे फर्जी आईडी से सिम लेते थे। विकास का परिवार फर्जी आईडी से लिए गए सिम का इस्तेमाल करता था। एसआईटी की सिफारिश पर कानपुर पुलिस रिचा दुबे पर एफआईआर दर्ज करने की तैयारी कर रही है।

कुख्यात अपराधी विकास दुबे ने बीते 2 जुलाई की रात अपने गुर्गों के साथ मिलकर सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों की बेरहमी से हत्या कर दी थी। इस हत्याकांड के बाद यूपी एसटीएफ ने पुलिस के साथ विकास दुबे समेत 6 बदमाशों को एनकाउंटर में मार गिराया था। वहीं सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बिकरू हत्याकांड की जांच के लिए संजय भूसरेड्डी के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया था।

राशन की दुकान से मिलते थे फर्जी दस्तावेज
हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे ने अपने नौकर दयाशंकर अग्निहोत्री के नाम पर राशन की दुकान की ली थी। राशन की दुकान का संचालन भी दयाशंकर करता था। सूत्रों के मुताबिक राशन की दुकान में बड़ी संख्या में कार्ड धारकों के आईडी कार्ड आसानी से मिल जाते थे। विकास दुबे के रिश्तेदार, गुर्गे और परिवार के सदस्य फर्जी दस्तावेजों से सिम कार्ड ले कर इस्तेमाल करते थे।

पुलिस ने जांच के दौरान मोबाइल नंबरों की डिटेल निकलवाई, तो पता चला कि यह सभी सिम फर्जी दस्तावेजों से लिए गए है। एसआइटी चीफ संजय भूसरेड्डी ने कार्रवाई की सिफारिश की है। एसआईटी ने अपनी रिपोर्ट में एक दर्जन से अधिक लोगों के नाम भी खोले है। इसके साथ ही विकास दुबे के खजांची जय बाजपेई ने फर्जी दस्तावेज तैयार कर के पासपोर्ट बनावाया था। एसआईटी की रिपोर्ट में इसका भी खुलासा हुआ है।

loading...
loading...

Check Also

लद्दाख में MARCOS को देखते ही उड़ गई चीनियों की नींद, लेकिन क्यों?

लगता है चीनी PLA के सैनिक इस कहावत को चरितार्थ करके ही मानेंगे – लातों ...