Friday , October 23 2020
Breaking News
Home / जरा हटके / बिना हेलमेट कार चलाने वाले हो जाएं सावधान, इस शहर में पुलिस काट देगी चालान !

बिना हेलमेट कार चलाने वाले हो जाएं सावधान, इस शहर में पुलिस काट देगी चालान !

पानीपत: ‘पुलिस’ पर काम नहीं करने के आरोप कई बार लग चुके हैं। पर कभी—कभी पुलिस ऐसे काम भी कर देती है जिससे उनकी फजीहत भी होती है और लोग हैरान भी हो जाते हैं। ऐसा ही एक मामला हरियाणा से सामने आया है। यहां ट्रैफिक पुलिस ने कार चालक का चालान काट दिया वो भी हेलमेट नहीं लगाने का। बताइए भला अब कोई हेलमेट लगाकर कार चलाता है?

यह कारनामा पानीपत जिले की ट्रैफिक पुलिस ने कर दिखाया है और यह घटना समालखा की है। हुआ यूं कि बापौली निवासी प्रवीण कुमार ने अपनी फैक्टी में काम करने वाले युवक को अपनी गाड़ी दी थी। सोनू नामक यह युवक अपनी मुक बधिर बच्ची के इलाज के लिए कार लेकर गया था। उसने का को जीटी रोड पर किनारे में खड़ा किया।

कुछ दिनों बाद प्रवीण के पास ट्रैफिक पुलिस का ऑनलाइन चालान पहुंचा। इसके देखकर प्रवीण चौंक गए। क्योंकि इसमें जिन नियमों के उल्लंघन करने की बात थी वह बड़ी ही पेचीदा बात है। चालान में कार की गलत पार्किंग के लिए 1500 रुपए जुर्माना लगाने के साथ ही चालक के हेलमेट न पहनने पर 1000 रुपये का जुर्माना लगाया गया है। दोनों जुर्माना राशि मिलकर 2500 रुपए होती है। इसे भी 3500 रुपए दर्शाया गया है।

प्रवीण ने यह भी बताया कि भेजे गए चालान में कार की फोटो है, जिसमें कोई बैठा हुआ दिखाई नहीं दे रहा है। फिर भी कार में हेलमेट न पहनने का चालान कर दिया गया। कार में ना तो कोई हेलमेट पहनकर बैठ सकता है ना ही ऐसे कोई कार चलाता है। अब इसे ठीक कराने के लिए भी मशक्कत करनी पड़ेगी। प्रवीण ने सोनू से भी चालान कटने की बात पूछी जिससे उसने इंकार कर दिया।

यह है ट्रैफिक पुलिस की दलील…

हाईवे ट्रैफिक पुलिस के चौकी प्रभारी ने इस मामले को लेकर मीडिया से कहा कि शनिवार को यह प्रकरण उनके संज्ञान में आया। जांच में लिपिक की गलती से ऐसा होने की बात सामने आई है। आगे से ऐसी गलती न हो इस बात का भी ध्यान रखने की बात भी कही गई है। लेकिन सवाल यह है कि कोई ऐसी गलती कैसे कर सकता है? इनकी गलती ने कार मालिक और चालक दोनों की मुसीबत बढ़ा दी है।

loading...
loading...

Check Also

इस बड़े शहर में आलूबंडा-चूना हुआ बैन, जानिए आखिर क्या है माजरा ?

क्या आपने कभी सुना है, कि शहर की शांति के लिए आलूबंडा और चूना को ...