Sunday , September 20 2020
Breaking News
Home / नौकरी / बिहार शिक्षक भर्ती की नई नियमावली, अब इस तरह तैयार होगी मेरिट लिस्ट

बिहार शिक्षक भर्ती की नई नियमावली, अब इस तरह तैयार होगी मेरिट लिस्ट

पटना. देश में पहले से ही बेरोजगारों की कमी नहीं है। ऊपर से कोरोना की महामारी ने इसमें और इजाफा कर दिया है। अफसोस की बात तब हो जाती है, जब सरकार नौकरियां निकालती है और इन बेरोजगारों को वक्त पर उनकी जानकारी तक नहीं मिलती है। इसीलिए हम पूरी कोशिश करते हैं कि नई सरकारी भर्तियों से जुड़ी हर जरूरी जानकारी उन लोगों तक पहुंचाते रहें जिनके लिए ये सबसे जरूरी है।

अब इसी कड़ी में बिहार में सरकारी शिक्षक बनने की चाहत रखने वाले लोगों के लिए बेहद जरूरी खबर है, क्योंकि बिहार में शिक्षकों की भर्ती को लेकर नयी नियमावली बनाई गई हैं। इसी नयी नियमावली के तहत राज्य में शिक्षकों की भर्ती की जाएगी। इसलिए सभी व्यक्ति को इसके बारे में सही जानकारी होनी चाहिए ताकि उन्हें किसी परेशानी का सामना करना ना पढ़ें। तो आइये इसके बारे में जानते हैं विस्तार से-

कक्षा एक से पांच तक के लिए- 
मिली जानकारी के मुताबिक नयी नियमावली के तहत कक्षा एक से पांच तक के शिक्षक भर्ती के लिए बनने वाली मेरिट सूची में पहले मैट्रिक, इंटरमीडिएट और प्रशिक्षण के अलावा टीइटी के दो से आठ फीसदी तक मिलने वाले ग्रेस मार्क्स जोड़े जाते थे। लेकिन अब नयी नियमावली के तहत ग्रेस मार्क्स नहीं दिये जायेंगे। केवल टीइटी उत्तीर्ण की अनिवार्यता रखी गयी है। इसके आधार पर ही उम्मीदवारों का चयन किया जायेगा।
कक्षा छह से आठ तक ले लिए-
नयी नियमावली के तहत कक्षा छह से आठ तक के शिक्षक भर्ती की मेरिट लिस्ट में पहले मैट्रिक, इंटरमीडिएट, स्नातक और बीएड के मार्क्स जोड़ कर टीइटी के ग्रेस अंक जोड़े जाते थे। इसके बाद उम्मीदवारों की मेरिट लिस्ट तैयार की जाती थी। लेकिन अब इस प्रक्रिया से मैट्रिक, इंटरमीडिएट और टीइटी के ग्रेस मार्क्स हटा दिये गये हैं। अब इन मार्क्स को नहीं जोड़ा जायेगा।

Check Also

3 साल में किस विभाग में कितनों को दिया रोजगार, लिस्ट जारी करके बताई योगी सरकार

लखनऊ 17 सितंबर को पीएम नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर बेरोजगारी के मुद्दे पर हुए ...