Tuesday , October 20 2020
Breaking News
Home / क्राइम / बीजेपी नेत्री का कारनामा : मजदूरी के बदले इलेक्ट्रिशियन के हवाले कर दी नाबालिग, करा दिया बलात्कार

बीजेपी नेत्री का कारनामा : मजदूरी के बदले इलेक्ट्रिशियन के हवाले कर दी नाबालिग, करा दिया बलात्कार

सवाई माधोपुर :  नाबालिग से दुष्कर्म मामले में गुरुवार को पुलिस ने एक और गिरफ्तारी की है। आरोपी बिजली फिटिंग का काम करता है और इसने मुख्य आरोपी सुनीता वर्मा के घर में बिजली का काम किया था। काम की मजदूरी के बकाया दो हजार रुपए मांगने पर सुनीता वर्मा ने इस बालिका को उसके हवाले कर दिया और हिसाब चुकता कर लिया। बाद में आरोपी ने बालिका को होटल स्वागत में ले जाकर उसका देह शोषण किया था।

दुष्कर्म की शिकार बालिका के परिजनों ने रिपोर्ट में इस बात का जिक्र किया था कि उसका पहली बार देह शोषण दिसंबर 2019 को दोपहर 12 बजे बजरिया मस्जिद के पास होटल स्वागत में किया था। पुलिस ने चार दिन पहले ही होटल के दस्तावेज खंगाले थे, लेकिन इस बात का खुलासा नहीं हो पा रहा था कि होटल में बालिका का शोषण करने वाला व्यक्ति कौन था।

 और भी लोगों के नाम आ सकते हैं सामने

इस राज से पर्दा उठाते हुए आखिर गुरुवार को पुलिस ने बालिका का इस होटल में शोषण करने के आरोपी राजूलाल रैगर निवासी खड्‌डा कॉलोनी को गिरफ्तार किया है। राजूलाल की उम्र 46 साल है और वह लाइट फिटिंग का काम कर रहा है। पड़ताल में सामने आया कि राजूलाल ने सुनीता के घर में बिजली का काम किया था।

काम पूरा होने के बाद भी सुनीता ने उसकी मजदूरी के बकाया दो हजार रुपए का भुगतान उसे नहीं किया। इस कारण वह उसके यहां चक्कर लगा रहा था। भाजपा महिला मोर्चा की पूर्व जिलाध्यक्ष सुनीता ने उसे मजदूरी के रुपए देने के स्थान पर बालिका को उसके हवाले कर दिया। बाद में राजूलाल बालिका को लेकर बजरिया स्थित होटल स्वागत ले गया और दुष्कर्म किया।

सुनीता वर्मा ने बकाया 2000 रूपए के बदले बच्ची को राजू को सौंपा

पुलिस ने यह नहीं बताया कि होटल में राजूलाल ने रजिस्टर में किस नाम एवं किस दस्तावेज के साथ अपनी एवं इस बालिका की एंट्री करवाई थी। अभी यह राज भी पुलिस ने नहीं खोला है कि वहां के रजिस्टर में इनके कमरा लेने की एंट्री थी या नहीं।

ये चारों आरोपी पहले से ही पुलिस गिरफ्त में

मामले में अब तक पांच लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। पहली भाजपा महिला मोर्चा की पूर्व जिलाध्यक्ष सुनीता वर्मा, दूसरा सुनीता का साथी हीरालाल मीना, तीसरा जिला उद्योग केन्द्र का कर्मचारी संदीप शर्मा, चौथा कलेक्टर कार्यालय का चपरासी श्योराज मीना एवं अब पांचवीं गिरफ्तारी राजूलाल लाल रैगर की हुई है।

अहम बात यह है कि इस मामले में अब तक सुनीता वर्मा को छोड़ कर किसी भी हाई प्रोफाइल व्यक्ति का नाम सामने नहीं आया है। अब तक जितने भी नाम सामने आए हैं, उनमें सभी लोग अधेड़ या उससे अधिक उम्र के हैं।

निशानदेही ही जांच का आधार बनी

बालिका जिन लोगों की पहचान एवं निशानदेही कर रही है उसे ही जांच का आधार बनाया जा रहा है। अब तक केवल उन लोगों की ही गिरफ्तारी हुई है, जो शोषण का शिकार बालिका द्वारा चिंहित किए जा रहे हैं। ऐसे में अहम बात यह है कि आखिर पुलिस ने सुनीता एवं हीरालाल का पहले रिमांड क्यों मांगा और जब तीन दिन के रिमांड में पुलिस कुछ नया नहीं खुलवा पाई तो दोबारा रिमांड क्यो मांगा? अब तक की गिरफ्तारियों का आधार केवल बालिका के आरोप, पहचान एवं निशानदेही तक ही सीमित है।

भाजपा महिला मोर्चा की एक और नेता का ऑडियो वायरल

भाजपा महिला मोर्चा की पूर्व जिलाध्यक्ष सुनीता वर्मा एवं कांग्रेस सेवादल महिला प्रकोष्ठ की पूर्व जिलाध्यक्ष पूजा उर्फ पूनम चौधरी की कार गुजारी के कारण जिले में दोनों ही संगठनों की चारित्रिक साख दांव पर है। अभी सुनीता वर्मा व पूजा का मामला शांत भी नहीं हुआ है कि भाजपा महिला मोर्चा की एक और पदाधिकारी का ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।

ऑडियो में जो बातें की जा रही है वे साबित करती है कि भाजपा महिला मोर्चा संगठन में अब भी ऐसी महिलाएं मौजूद हैं, जो भाजपा की विचारधारा एवं सिद्धांतों से शायद इत्तफाक नहीं रखती है। ऑडियो में महिला पदाधिकारी उसमें से और पूजा के बीच किसी एक को चुनकर प्रेम प्रसंग रखने की किसी युवक से जिद कर रही है। इसी प्रकार इसी महिला का एक और ऑडियो वायरल हो रहा है, जिसमें कोई उसे महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष बनाने का लालच देकर गंगापुर सिटी आने का आग्रह कर रहा है।

loading...
loading...

Check Also

बिना गारंटी 10 लाख का Loan देगी सरकार, ऐसे उठाएं इस शानदार योजना का लाभ

नई दिल्ली। PM Mudra Yojana: कोरोना संकट ( coronavirus ) में लोगों पर आर्थिक मंदी की ...