Saturday , September 19 2020
Breaking News
Home / जरा हटके / मासूम पाकिस्तानी बच्चे ने गलती से सरहद पार कर दी, इंडियन आर्मी ने फिर जो किया वो शानदार

मासूम पाकिस्तानी बच्चे ने गलती से सरहद पार कर दी, इंडियन आर्मी ने फिर जो किया वो शानदार

भारत और पाकिस्तान दो ऐसे देश हैं जिनकी आपस में कभी नहीं बनती हैं. इन दोनों देशों के बीच चल रही टेंशन कई सालों पुरानी हैं. ऐसे में जब बात भारत और पाकिस्तानी बॉर्डर की आती हैं तो वहां के इलाके में सबसे अधिक सेंसिटिव माहोल रहता हैं. इस बॉर्डर पर होने वाली नापाक हरकतों को कंट्रोल में रखने के लिए दोनों ही देश अपनी अपनी सीमा पर भारी सुरक्षा बल तैनात करते हैं. इस बॉर्डर पर अब तक ना जाने कितने सैनिक शहिद भी हो चुके हैं. दूसरी तरफ इस बॉर्डर के आसपास के इलाकों में रहने वाले रहवासियों को भी कई तरह की दिक्कतों का सामना भी करना पड़ता हैं. कई बार तो इन दोनों देशों की लड़ाई में मासूम रहवासियों की जान भी चली जाती हैं.

ऐसे में इस बॉर्डर के पास रह रही एक पाकिस्तानी फैमिली के ऊपर हाल ही में उस समय मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा जब उनका 11 साल का बच्चा गलती से बॉर्डर क्रॉस कर भारतीय सीमा में आ पहुंचा. ऐसे में जब ये पाकिस्तानी बच्चा इंडियन आर्मी के हाथ लगा तो उन्होंने कुछ ऐसा किया जिसे जान आप सभी का सीना गर्व से चौड़ा हो जाएगा. आइए विस्तार से जाने क्या हैं पूरा मामला…

मिली जानकारी के मुताबिक़ मोहम्मद अब्दुल्ला नाम का 11 साल का पाकिस्तानी लड़का LOC (लाइन ऑफ़ कंट्रोल) पार कर भारत पहुँच गया था. अब्दुल्ला सरफ़राज़ नाम के पाकिस्तानी नागरिक का बेटा हैं जो कि पाकिस्तान की देगवार तहसील में रहते हैं. ये लड़का गलती से भटकता हुआ कश्मीर में जा पहुंचा था.

ऐसे में जब ये लड़का इंडियन आर्मी के हाथ लगा तो उन्होंने उसी दिन उसे कश्मीर पुलिस के हाथ सौप दिया. इसके बाद इंडियन आर्मी और कश्मीर पुलिस ने लड़के को सही सलामत वापस पाकिस्तान भेजने की तैयारियां शुरू कर दी. इसके लिए आवश्यक फार्मलिटी को पूरा किया गया और तीन दिन बाद इंसानियत के नाते इंडियन आर्मी ने इस पाकिस्तानी लड़के को वापस बॉर्डर पार भेज दिया.

दिलचस्प बात ये रही कि लड़के को पाकिस्तान भेजने के पहले इंडियन आर्मी ने उसे नए कपड़े पहनाए और साथ ही मिठाई का एक डब्बा भी दिया. अधिकारीयों का कहना हैं कि उन्हें उम्मीद हैं कि उनके इस कृत्य से दोनों देशों के बीच रिश्तों में सुधार होगा.

वाकई, इंडियन आर्मी जितनी ज्यादा खतरनाक हैं उतनी ही ज्यादा दयालु भी हैं. उनके दिल में मासूम और बेकसूर नागरिको के लिए हमेशा सॉफ्ट कार्नर रहता हैं. फिर चाहे वो किसी भी देश के क्यों ना हो. इंडियन आर्मी और कश्मीर पुलिस के द्वारा किया गया ये कृत्य सच में काबिले तारीफ़ था.

हमें उम्मीद हैं कि अब्दुल्ला नाम का ये लड़का भारत से कुछ अच्छी और सुनहरी यादें लेकर पाकिस्तान लौटा हैं. शायद इंडियन आर्मी के इस काम से आने वाली जनरेशन के मन में भारत के लिए नफरत की बजाए प्यार उमड़ आए.

Check Also

शादी से पहले ऐसी मांग किया दूल्हा, भरी महफिल में दुल्हन हो गई शर्मिंदा

शादी हर लड़की का सपना होता है, हर लड़की उस सपने के साथ अपनी जिंदगी ...