Wednesday , January 27 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / मुद्रा लोन के तहत शुरू करें ये 2 कारोबार, 80% तक फंड और सब्सिडी देगी सरकार

मुद्रा लोन के तहत शुरू करें ये 2 कारोबार, 80% तक फंड और सब्सिडी देगी सरकार

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना (pradhan mantri mudra yojana) एक ऐसी योजना है. जिसके अंतर्गत कोई भी व्यक्ति जो व्यवसाय करना चाहता हैं या फिर अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाना चाहता हैं उसको सरकार मुद्रा लोन दे रही हैं. इस योजना का लाभ भी कोई भी व्यक्ति आसानी से ले सकता हैं. मुद्रा योजना के अंतर्गत 10 लाख रुपए तक का लोन आसानी से ले सकते हैं और अपने कारोबार को बड़ा कर सकते हैं. इस योजना के पीछे केंद्र सरकार की सोच है कि मुद्रा योजना से सभी लोगों को रोज़गार को बढ़ाने में मदद मिले और भारत से ग़रीबी दूर हो. ऐसे में अगर आप भी अपना बिजनेस शुरू करना चाहते हैं और आपके पास फंड की कमी है तो यह खबर आपके लिए है. आप अगर 2 से 3 लाख रुपए तक के निवेश वाले कारोबार की शुरुआत करते हैं तो मोदी सरकार आपकी मदद करेगी.

दरअसल, मोदी सरकार अपनी मुद्रा योजना के तहत छोटे कारोबारियों को लोन मुहैया कराती है. ऐसे में 75-80 फीसदी तक कारोबार शुरू करने के लिए लोन देती है. इस स्कीम के तहत आप भी अपना कारोबार शुरू करके कमाई कर सकते हैं. यह बिजनेस कोई मुश्किल नहीं है. जिन्होंने शुरू करने के लिए आपके पास 2 से 3 लाख रुपए होने चाहिए.

1.शुरू करें पापड़ मैन्युफैक्चरिंग यूनिट

मुद्रा स्कीम के तहत आप पापड़ बनाने का काम भी शुरू कर सकते हैं-

कितना चाहिए निवेश: 2.05 लाख रुपए के शुरुआती निवेश से यह कारोबार शुरू हो सकता है.

कितना मिलेगा लोन: पापड़ यूनिट के लिए 8.18 लाख रुपए का लोन मिल सकता है.

सब्सिडी का भी फायदा: पापड़ यूनिट के लिए आपको सरकार की आंत्रप्रिन्योनर सपोर्ट स्कीम के तहत 1.91 लाख रुपए की सब्सिडी भी मिलेगी.

2.शुरू करें लाइट इंजीनियरिंग यूनिट

मुद्रा स्कीम के तहत आप लाइट इंजीनियरिंग (जैसे-नट, बोल्ट्, वाशर या कील आदि) की मैन्युदफैक्चरिंग यूनिट शुरू कर सकते हैं.

कितना चाहिए निवेश: इस यूनिट को लगाने के लिए आपको 1.88 लाख रुपए की जरूरत पड़ेगी.

कितना मिलेगा लोन: मुद्रा स्कीम के तहत बैंक आपको 2.21 लाख रुपए टर्म लोन और 2.30 लाख रुपए वर्किंग कैपिटल के रूप में लोन देगा.

कितना होगा फायदा: एक महीने में करीब 2500 किलोग्राम नट-बोल्टट बना सकेंगे. साल भर में खर्च निकालकर करीब 2 लाख रुपए का मुनाफा हो सकता है.

3.करी एंड राइस पाउडर का बिजनेस

भारत में करी एवं राइस पाउडर की डिमांड बढ़ती जा रही है. ऐसे में आप भी यह बिजनेस शुरू कर सकते हैं-

कितना चाहिए निवेश: इस बिजनेस के लिए आपको शुरुआती निवेश 1.66 लाख रुपए चाहिए होंगे.

कितना मिलेगा लोन: मुद्रा योजना के तहत आपको बैंक से 3.32 लाख रुपए का टर्म लोन और 1.68 लाख रुपए का वर्किंग कैपिटल लोन मिल जाएगा.

क्या मिलेगा फायदा: इस बिजनेस शुरू करने का फायदा यह है कि इसके लिए आपको किसी अनुभव की जरूरत नहीं होगी. इसका नुस्खार मुद्रा बैंक की वेबसाइट पर प्रोजेक्टो प्रोफाइल में बताया गया है.

ई मुद्रा लोन लेने के लिए जरूरी दस्तावेज़ (Documents required to take an E-Mudra loan )

  • व्यक्ति की उम्र 18 वर्ष से 65 वर्ष होनी चाहिए.
  • व्यक्ति भारत का निवासी हो.
  • व्यक्ति का बैंक में अकाउंट होना चाहिए.
  • बैंक के मानकों पर खरा उतरे.
  • बैंक से आधार लिंक होना चाहिए और आधार के साथ मोबाइल नंबर लिंक्ड होना आवश्यक है.

मुद्रा बैंक लोन योजना के तहत लोन कैसे मिलेगा?

  • अगर कोई व्यक्ति मुद्रा बैंक लोन लेना चाहता है तो उसे इन प्रक्रियाओं का पालन करना होगा –
  • सर्वप्रथम आवेदक को बैंक जाना पड़ेगा. उससे संबंधित सारी इंटरेस्ट रेट जानकारी लेनी होगी.
  • लोन के लिए एक एप्लीकेशन फॉर्म भी भरना होगा.
  • एप्लीकेशन फॉर्म को भर कर जरूरी मांगे गए कागजातों और आपके द्वारा शुरू किए जाने वाले व्यवसाय को प्रस्तुत करना होगा.
  • इसके बाद बैंक द्वारा निर्धारित सभी औपचारिकताओं को पूरा करना होगा. जब सभी औपचारिकताएं पूरी हो जाएंगी तभी आपका ऋण मुद्रा बैंक योजना से मंजूर होगा.
  • मुद्रा लोन के तहत कोई भी ब्याज दर निश्चित नहीं की गई है. परंतु सामान्यतः मुद्रा लोन की इंटरेस्ट रेट 12% प्रतिवर्ष के आसपास होती है.

ई मुद्रा लोन देने वाले बैंकों के नाम (Names of banks lending e-Mudra loans )

  • स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ( State Bank of India )
  • बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of baroda )
  • विजया बैंक (Vijaya Bank )
  • बैंक ऑफ महाराष्ट्र (Bank of Maharashtra )
  • आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank )
  • एक्सिस बैंक (Axis Bank )
  • यस बैंक (Yes Bank )
  • यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (Union Bank of India )
  • पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank)
  • देना बैंक (Dena Bank )
  • आंध्र बैंक (Andhra Bank )
  • आईडीबीआई बैंक (IDBI Bank )
  • फेडरल बैंक (Federal Bank )

खबर साभार- कृषि जागरण

loading...
loading...

Check Also

क्या सॉफ्ट हिंदुत्व की राजनीति के चलते आजम को नजरअंदाज कर रहे अखिलेश?

उत्तर प्रदेश में 2022 में विधानसभा चुनाव होना हैं। बीते दिनों भारतीय जनता पार्टी (BJP) ...