Friday , September 18 2020
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / मेरठ : बिजली कंपनी के असिस्टेंट डायरेक्टर समेत 12 +ve, संक्रमितों की संख्या 1000 के करीब

मेरठ : बिजली कंपनी के असिस्टेंट डायरेक्टर समेत 12 +ve, संक्रमितों की संख्या 1000 के करीब

मेरठ. उत्तर प्रदेश के मेरठ में कोरोना संक्रमण की चपेट में इलैक्ट्रिक सेफ्टी के असिस्टेंट डायरेक्टर भी आ गए हैं। उनका बेटे और बहू शुक्रवार को दिल्ली में कोरोना पॉजिटिव मिले थे। सोमवार को मेरठ में कोरोना से दो मरीजों की मौत होने के बाद जिले में संक्रमण से मरने वाले मरीजों की संख्या बढ़कर 69 हो गई है। सोमवार को स्वास्थ्य विभाग ने 12 नए कोरोना पॉजिटिव मिलने की पुष्टि के बाद संक्रमित मरीजों का अंकड़ा एक हजार के करीब पहुंच गया है।

जिला सर्विलांस अधिकारी द्वारा जारी हेल्थ रिपोर्ट के अनुसार सोमवार को 12 नए कोरोना मरीज मिले इनमें सात नए केस हैं। पांच पुराने मरीजों के संपर्क में आने से संक्रमित हुए हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार सोमवार को कोरोना संक्रमण से दो लोगों की मौत हो गई। इनमें से एक मरीज 58 साल का दौराला क्षेत्र के गांव धंजू का रहने वाला था।

इसके डायलिसिस के लिए मेडिकल में भर्ती कराया गया था, जांच में उसकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थ, एक 37 साल की महिला ने कोरोना संक्रमण के चलते सुभारती अस्पताल में दम तोड़ दिया था। इस महिला को सांस लेने में तकलीफ होने की समस्या हो रही थी। जांच में आक्सीजन लेबल भी काफी कम था। यह महिला कंकरखेड़ा क्षेत्र की रहने वाली थी।

एसएसपी कार्यालय में तैनात सब इंस्पेक्टर कोरोना संक्रमित मिला
नए मरीजों में एसएसएपी आफिस में तैनात एक और सब इंस्पेक्टर कोरोना पॉजिटिव मिला है। यहां अब तक चार पुलिस कर्मी कोरोना पॉजिटिव मिल चुके हैं। एसएसपी आफिस में तैनात सभी स्टॉफ को क्वारैंटाइन किया गया है। मुंडाली क्षेत्र का एक बंदी भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। जिले में अब तक 967 कोरोना पॉजिटिव मिल चुके हैं, इनमें से 641 मरीज डिस्चार्ज किए जा चुके हैं। जिले में अब 257 मरीज एक्टिव हैं। कोरोना संक्रमण से 69 मरीजों की मौत हो चुकी है।

नोडल अधिकारी पवन कुमार ने मेडिकल अस्पताल और श्रीराम आयुर्वेदिक अस्पताल का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने निर्देश दिए कि किसी भी मरीज के इलाज में लापरवाही नहीं होनी चाहिए। इलाज के लिए अस्पताल में आक्सीजन सिलेंडर की आपूर्ति में कमी न हो, मरीजों के तीमारदार को आवश्यक जानकारी समय समय पर उपलब्ध कराते रहे। अस्पतालों के निरीक्षण के दौरान डीएम और अन्य अधिकारी साथ मौजूद रहे।

Check Also

LIVE डिबेट में बोले आशुतोष- सूर्य को अर्घ्य देता था अकबर.. पलटकर पूछे सरदाना- कैमरा लेकर रिपोर्टिंग करने गए थे?

कुछ दिन पहले सुप्रीम कोर्ट ने एक टीवी प्रोग्राम के एपीसोड प्रसारण पर रोक लगाते ...