Monday , September 21 2020
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / मेरठ में कोरोना : संक्रमण की पुष्टि होते ही अस्पताल से फरार हुआ मरीज, सुबह-सुबह आए रिकॉर्ड केस 

मेरठ में कोरोना : संक्रमण की पुष्टि होते ही अस्पताल से फरार हुआ मरीज, सुबह-सुबह आए रिकॉर्ड केस 

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। इसके प्रति लोगों में भय भी है। यहां सेक्टर 9 राजेंद्र नगर स्थित सीएचसी पर एक शख्स की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद वह अस्पताल से फरार हो गया। जानकारी होने के बाद मरीज के खिलाफ नौचंदी थाने में केस दर्ज कराया गया है। ऐसा ही एक मामला इससे पहले सीएचसी दौराला में सामने आया था। बता दें कि, मेरठ में पिछले 24 घंटे में 54 नए रोगी सामने आए हैं।

पता व मोबाइल नंबर गलत निकला

जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. विश्वास चौधरी ने बताया कि रविवार को राजेंद्र नगर सेक्टर 9 स्थित सीएचसी पर एक व्यक्ति जांच कराने के लिए पहुंचा। उसने अपना नाम अशोक और निवासी कालियागढ़ी बताया। जांच में सैंपल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। लेकिन इस बात की जानकारी होने के बाद अशोक नाम का व युवक अस्पताल से फरार हो गया। उसने जो नंबर ​जांच कराते समय दर्ज कराया था, उस पर फोन किया गया लेकिन वह गलत निकला। स्वास्थ्य कर्मियों को उसके द्वारा बताए गए पते पर भेजा गया, लेकिन वहां जाकर पता चला कि जो पता उसने लिखवाया था वह भी गलत है।

एक दिन में मिले 54 नए मरीज

डॉ चौधरी के अनुसार बीते 24 घंटे में 1,937 सैंपल टेस्ट हुए। जिनमें 54 की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी। पॉजिटिव मिले मरीजों में आईजी आफिस में तैनात पुलिस कर्मी के अलावा, अधिवक्ता, हेल्थ वर्कर, सर्विसमैन, छात्र शामिल है। मेरठ दिल्ली एक्सप्रेसवे पर काम कर रहे एनएचएआई के 6 मजदूरों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आयी है। इस समय 426 कोरोना एक्टिव केस हैं, इनमें से 62 होम आइसोलेशन में है। रविवार को एक महिला मरीज की इलाज के दौरान मौत हुई, यह महिला माधवपुरम की रहने वाली थी।

सिपाहियों ने दान दिया प्लाज्मा

सुभारती अस्पताल में कोरोना संक्रमित सब इंस्पेक्टर के इलाज के ​लिए दो सिपाहियों ने अपना प्लाज्मा दान दिया है। प्लाज्मा दान देने वालों में नौचंदी थाने की महिला कांस्टेबल प्रीति यादव और भावनपुर थाने का कांस्टेबल राजेश कुमार शामिल है।

मेडिकल को मिले 24 वेंटिलेटर

लाला लाजपत राय मेडिकल कॉलेज को 24 नए वेंटिलेटर मिले हैं। अब अस्पताल में वेंटिलेटर की संख्या बढ़कर 82 हो गई है। मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. एसके गर्ग का कहना है कि फिलहाल वेंटिलेटर की कमी नहीं है। नए मिले वेंटिलेटर जल्द ही दूसरा आईसीयू तैयार कर उसमें इंस्टॉल कर दिया जाएगा।

Check Also

School Reopen : यूपी में कल सुबह स्कूल-कॉलेज खुलेंगे या नहीं, आ गया योगी का फैसला

लखनऊ कोरोना महामारी के चलते उत्तर प्रदेश में कल यानी कि सोमवार से स्कूल-कॉलेज नहीं ...