Friday , October 2 2020
Breaking News
Home / क्राइम / मौत का ड्रग्स कनेक्शन : सुशांत को रिया दे रही थी CBD ऑयल, भारत में इसके इस्तेमाल पर है बैन

मौत का ड्रग्स कनेक्शन : सुशांत को रिया दे रही थी CBD ऑयल, भारत में इसके इस्तेमाल पर है बैन

सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले में ड्रग्स का एंगल सामने आने के बाद हड़कंप मचा हुआ है। इसी बीच एक चैनल ने दावा करते हुए कहा है कि रिया चक्रवर्ती कथित तौर पर सुशांत सिंह राजपूत को भारत में प्रतिबंधित CBD तेल भी दे रही थीं, जो कि एक तरह से ड्रग्स के रूप में इस्तेमाल होता है।

ये दावा अंग्रेजी  ने किया है, जिसके मुताबिक सुशांत को कथित तौर पर CBD तेल भी दिया जा रहा था। इस तेल को कैनाबिडियोल के रूप में भी जाना जाता है। भारत में इसके चिकित्सकीय इस्तेमाल पर भी रोक है। ऐसे में ये पूरी तरह अवैध है।

सूत्र के आधार पर चैनल का दावा

चैनल की रिपोर्ट के मुताबिक इस बात को लेकर भी बहुत सी गफलत थी कि सुशांत को किस तरह का तरल पदार्थ दिया गया था। हालांकि अबतक हुई जांच के बाद NCB (नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो) के एक सूत्र ने चैनल को बताया कि सुशांत को दिए जा रहे तरल पदार्थ का नाम CBD है, जो कि भारत में प्रतिबंधित है।

5 लोगों के खिलाफ केस दर्ज हुआ

ड्रग्स एंगल सामने आने के बाद नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने बुधवार को रिया चक्रवर्ती समेत 5 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। एनसीबी ने एनडीपीएस एक्ट के तहत रिया, सुशांत के हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा, बिजनेस मैनेजर श्रुति मोदी, जया साहा और एक अन्य के खिलाफ केस दर्ज किया है। ये केस विभाग के डायरेक्टर राकेश अस्थाना के आदेश पर दर्ज किया गया। दिल्ली की यूनिट, मुंबई एनसीबी के साथ मिलकर इस मामले की जांच करेगी।

यूं हुआ ड्रग्स एंगल का खुलासा

इससे पहले मंगलवार को इस केस में उस वक्त ड्रग्स एंगल की एंट्री हो गई, जब प्रवर्तन निदेशालय ने रिया के मोबाइल से डिलीट हुए साल 2017 के कुछ चैट्स एक्सेस किए थे और इन्हें नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो को सौंपा था। इन चैट्स में रिया की ड्रग्स के लिए कई लोगों से हुई बातचीत का पता चला। इनमें से एक चैट में रिया ने हार्ड ड्रग एमडीएम की बात की थी। वहीं एक अन्य चैट में जया साहा ने रिया से कहा था- ‘पानी, चाय या कॉफी में 4 ड्रॉप डालकर उसे देनी हैं। फिर 40 मिनट लगेंगे।’

परिवार के वकील ने भी दिया रिएक्शन

रिया की चैट वायरल होने के बाद सुशांत के परिवार के वकील विकास सिंह ने भी रिएक्शन दिया। एक न्यूज चैनल से बातचीत में उन्होंने कहा, ‘एफआईआर में हमने कहा था कि सुशांत को ड्रग का ओवरडोज दिया जाता था। हमें लगता था कि कोई ड्रग होगी जो डॉक्टर ने सुझाई होगी लेकिन यह खुलासा होश उड़ाने वाला है। इसका मतलब है कि सुशांत को हार्डकोर ड्रग्स दिए जा रहे थे जो कि किसी का दिमाग कंट्रोल करने के लिए दिए जाते हैं।’

2017 से शुरू हुआ ड्रग्स का सिलसिला

रिया के चार चैट वायरल हुए हैं जो यह साबित करते हैं कि रिया की लाइफ में 2017 में ड्रग्स की एंट्री हुई और वह 2020 तक चल रही है। हालांकि, ताजा चैट में यह क्लियर नहीं है कि रिया ड्रग्स को अपने लिए मांग रही थीं या फिर किसी और को देने के लिए।

जब्त किए मोबाइल फोन की जांच से हुआ खुलासा

10 अगस्त को प्रवर्तन निदेशालय ने रिया और उनके परिवार के 4 मोबाइल हैंडसेट जब्त किए थे। इनमें दो फोन रिया के हैं और एक-एक उनके पिता और भाई का है। दो आईपैड और एक लैपटॉप भी ईडी ने कब्जे में लिया था। सभी डिवाइसेस जांच के लिए फोरेंसिक लैब भेज दिए गए थे। दावा किया जा रहा है कि इसी जांच के दौरान ड्रग्स एंगल का खुलासा हुआ है।

loading...
loading...

Check Also

बिकरू कांड : यूपी पुलिस के लिए फांस बन गई अमर दुबे की शादी, लेकिन क्यों ?

कानपुर-बिकरू कांड मामले में अमर दुबे की पत्नी को लेकर पुलिस मझधार में दिख रही ...