Saturday , July 4 2020
Breaking News
Home / Uncategorized / यूपी बोर्ड रिजल्ट्स : दोपहर में आएंगे 10वीं और 12वीं के नतीजे, यहाँ करें चेक

यूपी बोर्ड रिजल्ट्स : दोपहर में आएंगे 10वीं और 12वीं के नतीजे, यहाँ करें चेक

प्रयागराज. यूपी बोर्ड के हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट परीक्षा 2020 में शामिल 51 लाख से अधिक परीक्षार्थियों के इंतजार की घड़ियां खत्म होने वाली हैं। यूपी बोर्ड आज दोपहर 12.30 बजे प्रयागराज स्थित मुख्यालय से परिणाम जारी करेगा। यूपी बोर्ड रिजल्ट जारी करने के साथ ही आधिकारिक वेबसाइट upmsp.edu.in और upmspresults.up.nic.in पर अपलोड कर दिया जाएगा। इस बार बोर्ड पहली मर्तबा डिजिटल हस्ताक्षर वाले अंकपत्र एवं प्रमाण पत्र जारी कर रहा है। यह डिजिटल अंकपत्र-प्रमाण पत्र छात्रों को परिणाम जारी होने के दो से तीन दिन के भीतर स्कूल के प्रधानाचार्य के माध्यम से मिल जाएगा। इस बार इटरमीडिएट में एक विषय में फेल होने वाले परीक्षार्थी को पहली बार कंपार्टमेंट में शामिल होने का मौका दिया जा रहा है। अभी तक यह व्यवस्था हाईस्कूल के छात्रों के लिए थी।

इस बार तत्काल नहीं मिलेगा अंक और प्रमाण पत्र

यूपी बोर्ड परीक्षा 2020 का परिणाम जारी होने के साथ अबकी बार बोर्ड की ओर से छात्रों को तत्काल अंकपत्र-प्रमाण पत्र जारी नहीं किया जाएगा। बोर्ड की ओर से यह निर्णय कोरोना संकट को देखते हुए लिया गया है। इससे पूर्व में बोर्ड की ओर से परिणाम जारी होने के बाद 15 दिन के भीतर अंकपत्र-प्रमाण पत्र स्कूलों को भेज दिए जाते थे। कोरोना संकट के चलते अंकपत्र-प्रमाण पत्र छपने में परेशानी हो रही है, इसीलिए स्कूलों से कहा गया है कि वह डिजिटल हस्ताक्षर वाले अंकपत्र-प्रमाण पत्र वेबसाइट से डाउनलोड करके छात्रों को वितरित करें। डिजिटल हस्ताक्षर वाले प्रमाण पत्र प्रवेश लेने से लेकर नौकरी तक में मान्य होंगे।इंटरमीडिएट पास करने वाले छात्रों को पहले डिजिटल प्रमाण पत्र उपलब्ध कराएगा, जिससे उन्हें प्रवेश लेने में परेशानी न हो।

4.80 लाख ने छोड़ दी परीक्षा

यूपी बोर्ड परीक्षा में पंजीकृत कुल 56,11,072 परीक्षार्थियों में से 51,30,481 परीक्षा में शामिल हुए थे। परीक्षा में हाईस्कूल में 30,24,632 परीक्षार्थी पंजीकृत थे। उसमें से 2,79,656 अनुपस्थित रहे, जबकि 27,44,976 शामिल हुए। इंटरमीडिएट में 25,86,440 परीक्षार्थी पंजीकृत थे। 20,0935 अनुपस्थित रहे। जबकि 23,85,505 परीक्षा में शामिल हुए। इस प्रकार कुल 4,80,591 विद्यार्थी परीक्षा में शामिल नहीं हुए।

बोर्ड की पॉजिटिव एप्रोच से जेईई की राह होगी आसान

इंजीनियरिंग की सबसे प्रमुख प्रवेश परीक्षा जेईई में बारहवीं के अंक का महत्व बढ़ने के बाद इस बार भी यूपी बोर्ड की इंटरमीडिएट परीक्षा में छात्रों को अच्छे अंक मिलने की उम्मीद जगी है। बोर्ड की ओर से मूल्यांकन में पॉजीटिव एप्रोच अपनाए जाने के बाद एक बार फिर से अच्छे अंक पाने वालों की गिनती बढ़ने की उम्मीद जगी है। बोर्ड के इस कदम से छात्रों की जेईई की राह आसान होगी।

Check Also

कॉल रिकॉर्ड्स से बड़ा खुलासा, विकास दुबे का ‘मुखबिर’ था ये पुलिसवाला, रेड की हर खबर देता रहा !

कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों की जान लेने वाला हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे अभी भी फरार है। ...