Tuesday , October 27 2020
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / अनलॉक-5 : यूपी में 15 अक्टूबर से खुलेंगे स्कूल-कॉलेज, पहले इन कक्षाओं की बारी, इतने घंटे होगी पढ़ाई

अनलॉक-5 : यूपी में 15 अक्टूबर से खुलेंगे स्कूल-कॉलेज, पहले इन कक्षाओं की बारी, इतने घंटे होगी पढ़ाई

लखनऊ. मार्च से बंद चल रहे स्कूल-कॉलेज आखिरकार 15 अक्टूबर से खुल सकेंगे। अनलॉक 5 (Unlock 5 guidelines) के लिए केंद्र सरकार की गाइडलाइन के बाद अब यूपी सरकार (UP Government) ने भी राज्य के स्कूलों के लिए गाइडलाइन जारी कर दी है, जिसमें 15 अक्टूबर से चरणबद्ध तरीके से स्कूल खोले जा सकेंगे। इसके लिए स्कूल व कॉलेज प्रबंधन को जिला प्रशासन से विचार विमर्श करना होगा। साथ ही स्कूलों को अभिभावकों की सहमति लेनी होगी। बच्चों या अभिभावकों पर स्कूल प्रशासन किसी प्रकार का दबाव नहीं बना सकता है।

उत्तरप्रदेश के लिए शासन ने गुरुवार को अनलॉक के पांचवें चरण की गाइडलाइंस कर दी है। गृह मंत्रालय की एडवाइजरी के अनुसार उत्तर प्रदेश सरकार ने अनलॉक-5.0 के लिए आज अपनी नई गाइडलाइन जारी की। जिसके तहत प्रदेश में सभी स्कूल और शैक्षणिक संस्थान 15 अक्टूबर के बाद चरणबद्ध तरीके से खोले जा सकेंगे। स्वैच्छिक रूप से क्लास में शामिल होने वाले बच्चों को अनुमति दी जा सकती है। साथ ही जैसा पहले भी अनुमान लगाया जा रहा था, अभिभावकों की लिखित सहमति के बाद ही बच्चे स्कूल जा सकते हैं। इसके अतिरिक्त महाविद्यालयों व उच्च शिक्षा संस्थानों को शिक्षा मंत्रालय, भारत सरकार के निर्देश के अनुसार ही चलना होगा।

12, 26 अक्टूबर को ट्रायल क्लासेस का दिया गया था सुझाव-

अनएडेड प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन (UPSA) ने बीचे दिनो यूपी सरकार के स्कूल खोले जाने को लेकर एक प्लान तैयार करके दिया था जिसके अंतर्गत 12 अक्टूबर से ट्रायल के आधार पर 10 दिनों के लिए 10वीं और 12वीं की कक्षाओं को चलाना का सुझाव दिया गया था। हालांकि आज जारी गाइडलाइन के अनुसार 15 अक्टूबर से स्कूल खोने जाने के निर्देश हैं। UPSA ने इसके बाद ट्रायल के आधार पर 26 अक्टूबर से 9वीं और 11वीं की कक्षाएं शुरू करने के लिए कहा है। सब कुछ ठीक रहा तो 18 नवंबर से कक्षा 6वीं से 8वीं की कक्षाएं शुरू की जा सकती हैं।

शुरुआत में, केवल 2-3 घंटे की कक्षाएं आयोजित की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि छात्रों पर भी कुछ प्रतिबंध लगाए जाएंगे। इनमें किताबों की कोई उधारी, टिफिन का बँटवारा, अवकाश में कक्षा से बाहर जाना, स्कूल के समय से पहले या बाद में ग्रुप में खड़े रहना जैसी बातें शामिल हैं।

loading...
loading...

Check Also

स्टाफ को तोहफे में सोने के गहने देते हैं ये चायवाले अंकल, हैरान कर देगा इसका कारण

हिन्दुस्तान में चाय की दूकान एक ऐसी आम दूकान है जो आपको हर शहर, हर ...