Saturday , January 16 2021
Breaking News
Home / ख़बर / किसानों का आंदोलन : सरकार बैठे महलों में और हम सर्दी में ठिठुरें सड़कों पर.. ये अब नहीं चलेगा.. देखें Video

किसानों का आंदोलन : सरकार बैठे महलों में और हम सर्दी में ठिठुरें सड़कों पर.. ये अब नहीं चलेगा.. देखें Video

टीकरी बॉर्डर
काफी तादात में किसान (Farmers at border) यहां डटे हुए हैं। सोमवार रात रुक-रुक कर होती रही बारिश के बीच किसानों ने पूरी रात आपस में बात कर गुजारी। किसानों के बिस्तर पानी से भीग चुके थे। ऐसे में ट्रैक्टर-ट्रोली में रखे पराली को बिस्तर बनाया और तिरपाल से छत बनाकर पूरी रात गुजारी। बारिश के कारण ठंड अधिक होने से किसान पूरी रात कांपते रहे, हालांकि बॉर्डरों पर कई जगहों पर लकड़ी में लगाई गई आग से थोड़ी राहत जरूर मिली। बारिश से भीगने और ठंड अधिक होने के कारण कई किसानों की तबियत भी खराब हो गई है, फिर भी बॉर्डर पर ही डटे हुए हैं, किसानों (Farmer’s Protest) का कहना है कि इस ठंड में मेरी जान चली जाए, मंजूर है, लेकिन वे यहां से बिल वापसी के बाद ही घर वापसी करेंगे।

यहां डटे किसानों को ठंड और बरसात से चुनौती का सामना करना पड़ा। बारिश और कड़ाके की ठंड के बावजूद किसानों के हौसले कम नहीं हुए और उन्हें रात के समय सड़क के बीच में ही अपनी रात गुजारी। इस दौरान किसानों की ओर से लगाए गए टेंट में पानी भी घुस गया, जिसके चलते पूरी रात किसान पानी निकालते दिखे। वहीं ठंड से भी परेशान दिखे किसानों ने अलाव का सहारा तो किसी ने आपस में बातचीत करते हुए रात का समय बिताया।

टीकरी बॉर्डर पर कुछ किसान यहां ईंट, बालू और सिमेंट लेकर पहुंचे। मंगलवार सुबह से ही कंस्ट्रक्शन का काम शुरू कर दिया। कंस्ट्रक्शन कर रहे किसानों ने बताया कि उन्हें यहां एक महीने से अधिक का समय हो गया है, सरकार उनकी मांगे नहीं मान रही है। ऐसे में वे भी अब यहां स्थाई मकान ही बना रहे हैं, ताकि बारिश और ठंड से बच सकें। किसानों का कहना है कि अब वे तभी यहां से जाएंगे, जब सरकार उनकी मांगे मान लेगी।

loading...
loading...

Check Also

UP Panchayat Election 2021 : फाइनल वोटर लिस्ट बनने से पहले पकड़ी गईं ऐसी गजब गड़बड़ियां !

यूपी में पंचायत चुनाव की तैयारियां जोरों पर हैं। 22 जनवरी को फाइनल वोटर लिस्ट ...